scorecardresearch

सिडनी: बंदूकधारी ने मांगा आईएस का झंडा, लगाए चार बम

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में एक लोकप्रिय कैफे में लोगों को बंधक बनाने वाले बंदूकधारी ने इस्लामिक स्टेट का झंडा मांगा है और वह प्रधानमंत्री टोनी एबट से बात करना चाहता है। यह जानकारी आज एक मीडिया रिपोर्ट में दी गई। बंदूकधारी ने अपनी मांगें बंधकों के जरिए पहुंचाईं जिन्होंने नेटवर्क टेन न्यूज चैनल से बात […]

सिडनी: बंदूकधारी ने मांगा आईएस का झंडा, लगाए चार बम
सरकार संचालित एबीसी टेलीविजन की खबरों के मुताबिक, मध्य सिडनी के व्यस्त पयर्टक और खरीदारी केंद्र मार्टिन प्लेस स्थित लिंडट चॉकलेट कैफे में कम से कम तीन लोगों को हथियारों के साथ देखा गया है।

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में एक लोकप्रिय कैफे में लोगों को बंधक बनाने वाले बंदूकधारी ने इस्लामिक स्टेट का झंडा मांगा है और वह प्रधानमंत्री टोनी एबट से बात करना चाहता है। यह जानकारी आज एक मीडिया रिपोर्ट में दी गई। बंदूकधारी ने अपनी मांगें बंधकों के जरिए पहुंचाईं जिन्होंने नेटवर्क टेन न्यूज चैनल से बात की।

रिपोर्ट के अनुसार सशस्त्र व्यक्ति ने बंधकों को बताया था कि उसने चार बम लगाए हैं। स्काई न्यूज चैनल ने नेटवर्क टेन के हवाले से कहा कि बंदूकधारी ने कहा कि दो बम मार्टिन प्लेस स्थित लिंड्ट चॉकलेट कैफे में लगाए गए हैं और अन्य सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट में अन्यत्र लगाए गए हैं।

बंदूकधारी ने इस्लामिक स्टेट का झंडा मुहैया कराने और एबट से बात कराने की मांग की। नेटवर्क टेन ने कथित तौर पर कैफे के अंदर मौजूद दो बंधकों से बात की जो व्यक्ति की मांगों के बारे में बताते समय बदहवास थे। इसने कहा, ‘‘व्यक्ति जिसने बंधकों को खुद को ‘भाई’ कहकर बुलाने के लिए बाध्य किया, ने कहा कि यदि उसे झंडा मुहैया करा दिया जाता है तो वह एक बंधक को छोड़ देगा।’’

इस बीच, न्यू साउथवेल्स पुलिस ने टास्क फोर्स पायनीयर को सक्रिय कर दिया है जिससे पता चलता है कि स्थिति को अब आतंकवादी हमले के रूप में माना जा रहा है। न्यू साउथवेल्स की उपायुक्त कैथरीन ने टास्क फोर्स को सक्रिय किए जाने की पुष्टि की।

उन्होंने बंधक प्रकरण शुरू होने के छह घंटे बाद लिंड्ट चॉकलेट कैफे से तीन लोगों के बचकर बाहर आने के कुछ क्षण बाद इसकी घोषणा की। कैफे के भीतर मौजूद लोगों की संख्या के बारे में पुष्टि नहीं हो पाई है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 15-12-2014 at 05:59:22 pm