ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में अमेरिकी ड्रोन ने आतंकी ठिकानों पर दागे 2 मिसाइल, कमांडर सहितत 6 आतंकवादी ढेर

पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान के उत्तर-पश्चिमी कबायली इलाके में गुरुवार को अमेरिकी ड्रोन हमले में कम से कम सात आतंकवादी मारे गए।
Author इस्लामाबाद | April 28, 2017 05:02 am
पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान के उत्तर-पश्चिमी कबायली इलाके में गुरुवार को अमेरिकी ड्रोन हमले में कम से कम सात आतंकवादी मारे गए।

पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान के उत्तर-पश्चिमी कबायली इलाके में गुरुवार को अमेरिकी ड्रोन हमले में कम से कम सात आतंकवादी मारे गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी ड्रोनों ने उत्तरी वजीरिस्तान के दत्ता खेल इलाके में आतंकवादियों के दो ठिकानों को निशाना बनाकर दो मिसाइल दागे। हमले में दोनों ठिकानें पूरी तरह ध्वस्त हो गए। हमला अपराह्न दो बजे (स्थानीय समयानुसार) के आसपास किया गया। मृतकों में तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) का एक कमांडर तथा उसके छह सहयोगी शामिल हैं। हमले के वक्त वे ठिकाने पर बैठक कर रहे थे। इस साल के शुरू होने के बाद से लेकर अब तक गुरुवार का ड्रोन हमला पाकिस्तान में अपनी तरह का दूसरा हमला है। पड़ोसी कुर्रम एजेंसी कबायली इलाके में बीते दो मार्च को इसी तरह के हमले में दो संदिग्ध आतंकवादी मारे गए थे।

4 दिन पहले ही पाकिस्तान की कुर्रम एजेंसी में एक यात्री वाहन बारूदी सुरंग की चपेट में आ गया, जिससे पांच लोगों की मौत हो गई और 11 अन्य घायल हो गए था। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, वाहन गोदार गांव से सोडा की ओर जा रहा था, जब यह भूमिगत सुरंग की चपेट में आ गया था। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि मृतकों में एक महिला भी है, जबकि तीन घायलों की हालत बेहद नाजुक है। कुर्रम एजेंसी पाकिस्तान की सात अर्ध-स्वायत्त कबायली इलाकों में से एक है, जो अफगानिस्तान की सीमा से सटा है। वहीं रॉयटर्स के मुताबिक इस हादसे में करीब 10 लोगों की मौत हुई है।

बता दें कि पाकिस्तान ने हाल ही विवादित सैन्य अदालतों द्वारा आतंकवाद संबंधी अपराधों के दोषी करार दिए गए चार ‘कट्टर’ तालिबानी आतंकियों को आज फांसी पर चढ़ा दिया। सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा कि इन्हें उत्तर पश्चिम में स्थित खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की जेल में फांसी पर चढ़ाया गया। उन्होंने कहा, ‘‘सैन्य अदालतों में दोषी करार दिए गए चार कट्टर आतंकियों को आज फांसी पर चढ़ा दिया गया। गफूर ने कहा कि ये लोग आतंकवाद से जुड़े घृणित अपराधों में संलिप्त थे। इन अपराधों में मासूम नागरिकों की हत्या, पाकिस्तानी सैन्य बलों एवं कानून प्रवर्तन एजेंसियों पर हमले आदि शामिल हैं। सेना ने चार कैदियों की पहचान रहमान उद दीन, मुश्ताक खान, उबैद उर रहमान और जफर इकबाल के तौर पर की है। ये लोग प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के सदस्य थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.