विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने निभाया वादा, ढाई साल के पाकिस्तानी बच्चे को मिला मेडिकल वीजा - Sushma swaraj keeps her promise Pakistani toddler gets medical visa for heart ailment - Jansatta
ताज़ा खबर
 

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने निभाया वादा, ढाई साल के पाकिस्तानी बच्चे को मिला मेडिकल वीजा

ट्विटर के जरिए मदद की गुहार लगाने वाले एक पाकिस्तानी शख्स को किया गया वादा सुषमा स्वराज ने पूरा कर दिया है।

भारत में विदेश मामलों की मंत्री सुषमा स्‍वराज। (Source: PTI)

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज न सिर्फ अपना कार्यभार कुशलता से संभालने के लिए जानी जाती हैं बल्कि वह आम लोगों से भी हमेशा संपर्क में रहती है। विदेश मंत्री द्वारा महज ट्विटर के जरिए ही आम लोगों की समस्याओं का समाधान करने की कई खबरें आपने सुनी होगी। वहीं ट्विटर के जरिए मदद की गुहार लगाने वाले एक पाकिस्तानी शख्स की मदद एक बार फिर से सुषमा स्वराज की कार्यशैली पर कुशलता की मुहर लगाती है। पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायुक्त ने एक ढाई साल के पाकिस्तानी बच्चे के इलाज के लिए उसे और उसके परिजनों को भारत की वीजा दे दी है। इस मदद के लिए पाकिस्तान के निवासी केन सिड ने ट्वीट कर मदद मांगी थी। सिड ने 31 मई को अपने ट्वीट में लिखा था- “मेरा बेटा क्यों इलाज के लिए परेशान हो! क्या कोई जवाब है आपके पास सरताज अजीज या सुषमा मैम”।

इस ट्वीट के जवाब में सुषमा स्वराज ने कहा था कि वह वादा करती हैं कि उनके बेटा का इलाज होकर रहेगा। उन्होंने लिखा था- “नहीं, बच्चा किसी तरह पीड़ा में नहीं रहेगा। आप पाकिस्तान स्थित भारतीय हाई कमिशन से बात करें। हम मेडिकल वीजा मुहैया कराएंगे।” रिपोर्ट्स के मुताबिक सिड का परिवार भारतीय वीजा के लिए बीते तीन महीने से प्रयास कर रहा था। भारतीय उच्चायुक्त ने सिड के परिवार को 4 महीने का मेडिकल वीजा जारी किया है। सिड के मुताबिक उनके बेटे के दिल की सर्जरी होनी है। वहीं सिड के अपने बेटे के लिए मदद मांगने के बाद न सिर्फ सुषमा स्वराज ने, बल्कि कई भारतीयों ने भी सिड को ट्विटर पर आश्वासन दिया था औरउनके बेटे के जल्द ठीक होने की कामना भी की थी।

बता दें यह पहली बार नहीं है जब स्वराज ने महज सोशल मीडिया के जरिए मदद का आश्वासन कर उसे पूरा किया हो। स्वराज कई बार इस तरह से आम लोगों की सहायता कर चुकी हैं। वहीं हाल ही में भारतीय महिला उजमा 25 मई को पाकिस्तान से अपने देश लौटी थीं। उजमा का आरोप था कि एक पाकिस्तानी शख्स ने बंदूक की नोक पर उससे शादी की थी। उजमा के भारत आने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया था- “भारत की बेटी का स्वागत है। तुम्हें जो सहना पड़ा उसके लिए सॉरी।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App