ताज़ा खबर
 

काबुल में तालिबानी हमले में 30 मरे, सैकड़ों घायल

अफगानिस्‍तान की राजधानी काबुल में अमेरिकी दूतावास और NATO मिशन के पास आत्मघाती धमाका हुआ। इसमें 24 लोगों के मारे जाने की खबर है।

Author काबुल | April 20, 2016 2:33 AM
काबुल में आत्‍मघाती ब्‍लास्‍ट के बाद तैनात सुरक्षाकर्मी। (Photo: REUTERS)

मध्य काबुल में मंगलवार को तालिबानी ट्रक बम विस्फोट में कम से कम 30 लोग मारे गए और सैकड़ों की तादाद में लोग घायल हुए। इस विस्फोट के बाद दोनों ओर से भारी गोलीबारी हुई। भारी भीड़भाड़ वाले इलाके में हुए इस हमले की जिम्मेदारी तालिबान ने ली है। इस विस्फोट के बाद आसमान में काले धुएं का गुबार बन गया और कई किलोमीटर तक मकानों की खिड़कियां हिल गईं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई विश्व नेताओं ने इस हमले की कड़ी निंदा की है।

एक हफ्ते पहले ही तालिबान ने जंग की शुरुआत का एलान किया था। रक्षा मंत्रालय के निकट यह हमला अफगानिस्तान की राजधानी में पहला बड़ा तालिबानी हमला है। काबुल पुलिस के प्रमुख अब्दुल रहमान रहीमी ने बताया, आत्मघाती हमलावरों में से एक ने सरकारी भवन के करीब सार्वजनिक पार्किंग में विस्फोटक से लदा एक ट्रक उड़ा दिया। इसके परिणामस्वरूप 28 लोग मारे गए जिनमें ज्यादातर आम नागरिक थे। उन्होंने कहा, दूसरे हमलावर ने सुरक्षा बलों को मुठभेड़ में उलझाए रखा और उसे मार गिराया गया।

रहीमी ने कहा कि इस हमले में 183 लोग घायल हुए हैं, लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि घायलों की संख्या करीब 330 है जिनमें कई लोगों की हालत गंभीर है। गृह मंत्रालय ने इस हमले को ‘युद्ध अपराध’ करार दिया और अपराधियों से निपटने का संकल्प लिया। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने दावा किया कि उनके लड़ाके मुख्य अफगान सुरक्षा एजंसी के राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय के कार्यालय में घुसने में सफल रहे। अफगान अधिकारियों ने इससे इनकार करते हुए कहा कि इस हमले का निशाना एक सरकारी कार्यालय था जिस पर सरकार के अति विशिष्ट व्यक्तियों को सुरक्षा उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी है। तालिबान लड़ाई के बारे में अक्सर बढ़ा-चढ़ाकर दावे करता है।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने एक बयान में कहा, हम काबुल से सटे पुली मोहम्मद खान में इस आतंकी हमले की कड़ी भर्त्सना करते हैं। इस तरह के कायरतापूर्ण आतंकवादी हमलों से आतंकवाद से लड़ने की अफगान सुरक्षा बलों की इच्छाशक्ति और प्रतिबद्धता कमजोर नहीं होगी।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को काबुल में आतंकी हमले की निंदा की और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। मोदी ने ट्वीट किया, मैं काबुल में हमले की निंदा करता हूं और शोकसंतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। घायलों के जल्दी ठीक होने की प्रार्थना करता हूं।

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए आतंकी हमले की निंदा की है। पाकिस्तानी विदेश विभाग ने एक बयान में कहा, हम उन लोगों के प्रति सहानुभूति और संवेदना प्रकट करते हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है और घायलों के जल्द सेहतमंद होने की दुआ करते हैं। इसमें कहा गया है कि पाकिस्तान इस हमले की कड़ी निंदा करता है। विदेश विभाग ने कहा, पाकिस्तान सभी तरह के आतंकवाद की निंदा करता है और दुख की इस घड़ी में हम अफगानिस्तान की सरकार और लोगों के प्रति एकजुटता प्रकट करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App