ताज़ा खबर
 

गे परेड में भारतीय मूल के शख्स ने निकाली बंदूक, भगदड़ मचने से कई हुए घायल

पुलिस ने बताया कि परेड में व्यक्ति के बंदूक निकालने के बाद मची भगदड़ में कई लोग घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, यह घटना वाशिंगटन डीसी के पड़ोस में डुपोंट र्सिकल में घटी।

परेड में भगदड़ के बाद मौके पर मौजूद पुलिस। (AP Photo/Patrick Semansky)

अमेरिका में ‘एलजीबीटीक्यू प्राइड’ (LGBTQ) परेड के दौरान बंदूक दिखाकर डराने और उसके कारण मची भगदड़ के मामले में एक भारतीय मूल के व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी की पहचान 38 वर्षीय आफताबजीत सिंह के रुप में हुई है। खबर के अनुसार, वाशिंगटन डीसी में एलजीबीटीक्यू समुदाय के लोग परेड का आयोजन कर रहे थे। इसी दौरान भारतीय मूल के आफताबजीत सिंह का किसी व्यक्ति के साथ विवाद हो गया। इसी विवाद में आफताबजीत सिंह ने बंदूक निकाल ली। बंदूक निकालने की बात परेड में आग की तरह फैल गई और मास शूटिंग के डर से लोगों ने भागना शुरु कर दिया। जिससे परेड में भगदड़ मच गई।

पुलिस ने बताया कि परेड में व्यक्ति के बंदूक निकालने के बाद मची भगदड़ में कई लोग घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, यह घटना वाशिंगटन डीसी के पड़ोस में डुपोंट र्सिकल में घटी। घटना के तुरंत बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और उसकी बंदूक जब्त कर ली। हालांकि आरोपी से जो बंदूक जब्त की गयी वह एक प्रकार की एयर गन है। आरोपी आफताबजीत सिंह पर अवैध रूप से बीबी गन रखने का आरोप लगाया गया हैं। सोमवार को आरोपी को अदालत में पेश किया गया।

एनबीसी वाशिंगटन की एक खबर के अनुसार, कई लोगों ने न्यूज4 के साथ बातचीत में बताया कि उन्होंने भगदड़ के दौरान गोलियां चलने की आवाज भी सुनी। हालांकि पुलिस ने गोली चलने की बात से इंकार किया है। पुलिस के अनुसार, भगदड़ के दौरान एक व्यक्ति ने पुलिस को इसकी सूचना दी। जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में ले लिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तानः फर्जी बैंक खाता केस में पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को बड़ा झटका, NAB ने किया अरेस्ट
2 सोशल मीडिया पर फरेब कर इस शातिर महिला ने 17 दिन में कमाए 35 लाख
3 श्रीलंकाई राष्ट्रपति ने दी ‘मुस्लिम प्रभाकरन’ के सिर उठाने की चेतावनी! जानें क्या बोले सिरिसेना