ताज़ा खबर
 

श्रीलंका में बाढ़ से 40 की मौत, 200 से अधिक के मलबे में दफन होने की आशंका

इस बाढ़ और भूस्खलन से 81,216 परिवार या 3,32,254 लोग प्रभावित हुए है।

Author कोलंबो | May 18, 2016 11:04 PM
118 लोग अब भी लापता हैं। इस बीच, भारत सहित पूरे विश्व ने लाखों विस्थापितों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है। (AP Photo/Eranga Jayawardena)

श्रीलंका में पिछले तीन दिनों की मूसलाधार बारिश, उससे आई बाढ़ और बड़े पैमाने पर भूस्खलन की घटनाओं में करीब 40 लोगों की मौत हो गई है जबकि 200 से अधिक लोगों के (मलबे में) दफन हो जाने की आशंका है। बचाव कर्मी मलबे से लोगों को ढूढने में अहर्निश जुटे हैं। बचावकर्मियों ने 17 शव बरामद किए हैं। वे लोगों के बचे होने की आस में बचाव कार्य में जुटे हें।

सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जयनाथ जयवीरा ने बताया कि ये लोग ग्रामीण हैं जिनके घर मंगलवार (17 मई) शाम कोलंबो के उत्तरपूर्व में पहाड़ी क्षेत्र केगाल्ले में भूस्खलन के चपेट में दो गांवों में दफन हो गए थे। और शव बरामद होने से पिछले तीन दिनों में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है। इस बाढ़ और भूस्खलन से 81,216 परिवार या 3,32,254 लोग प्रभावित हुए है।

जयवीरा ने कहा कि 300 से अधिक सैनिकों को बचाव कार्य में लगाया गया है जिन्होंने अरानायके गांव में फंसे 180 लोगों को बचाया तथा इलाके से 13 शव बरामद किए। प्रांतीय प्रशासन के अधिकारी शाह फैजल ने बताया कि 1,041 लोगों को एक राहत शिविर में ले जाया गया और सेना, पुलिस एवं वायुसेना के लोग शवों की तलाश में जुटे हुए हैं।

जयवीरा ने कहा कि बुलिथकोहुपिटिया गांव में भी चार शव बरामद किए गए। श्रीलंकाई रेडक्रॉस ने कहा कि केगाले जिले के सिरिपुरा, पालेबगै अ‍ैर इलागिपिटया गांवों में 220 से अधिक परिवारों के मलबों में दबे होने की आशंका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App