scorecardresearch

श्रीलंकाः नए पीएम के खिलाफ भी उतरे लोग, बोले- वो राजपक्षे परिवार के दोस्त, उन पर भरोसा नहीं

श्रीलंका में अंतरिम सरकार से विपक्ष ने भी दूरी बना रखी है। वहीं महिंदा राजपक्षे की गिरफ्तारी के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया गया है।

Sri Lanka crisis, Ranil Wickremesinghe
श्रीलंका में जारी है सरकार के खिलाफ प्रदर्शन (फोटो- एपी)

श्रीलंका में हालत सुधरते नहीं दिख रहे हैं। पहले से ही लोग राजपक्षे परिवार से नाराज चल रहे हैं और उसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद और नए पीएम रानिल विक्रमसिंघे के शपथ के बाद ऐसा लग रहा था कि प्रदर्शन अब थम जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। लोग अब नए पीएम के खिलाफ भी सड़कों पर उतरे हुए हैं।

सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि विक्रमसिंघे भी राजपक्षे परिवार के दोस्त हैं, ऐसे में उनपर भरोसा नहीं किया जा सकता है। एक प्रदर्शकारी ने कहा- “हमें नए पीएम रानिल विक्रमसिंघे पर भरोसा नहीं है क्योंकि वह राजपक्षे परिवार के बहुत अच्छे दोस्त हैं, हमें विश्वास नहीं है कि वह लोगों के साथ न्याय करेंगे।”

वहीं दूसरी ओर रानिल विक्रमसिंघे ने शनिवार को अपने मंत्रिमंडल में चार मंत्रियों को शामिल किया है। जिसमें दिनेश गुणवर्धने को लोक प्रशासन मंत्री, पीरिस को विदेश मंत्री, प्रसन्ना रणतुंगा को शहरी विकास और आवास मंत्री और कंचना विजेसेकारा को बिजली और ऊर्जा मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है। पीरिस, राजपक्षे सरकार में भी विदेश मंत्री थे।

इस बीच, श्रीलंका में अधिकांश विपक्षी दलों ने घोषणा की है कि वे प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के नेतृत्व वाली अंतरिम सरकार में शामिल नहीं होंगे। विपक्ष के इस फैसले से भी सरकार को बड़ा झटका लगा है। वहीं श्रीलंका की एक अदालत में याचिका दाखिल कर मांग की गई है कि वह आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) को निर्देश दे कि वो पूर्व प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे और छह अन्य को आपराधिक धमकी देने और सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों पर हमले के लिए उकसाने के आरोप में तुरंत गिरफ्तार करे।

बता दें कि इन दिनों श्रीलंका गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। तेल, दूध, खाद्य वस्तुएं समेत लगभग सभी जरूरी समानों की किल्लत हो रखी है। इन्हीं कारणों से सरकार के खिलाफ जनता सड़कों पर है। पुराने पीएम महिंदा राजपक्षे अपनी जान बचाने के लिए एक नेवल बेस पर चले गए हैं।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट