ताज़ा खबर
 

केनेडी एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया सॉफ्टवेयर इंजीनियर, खुद को इंजीनियर साबित करने के लिए देना पड़ा टेस्‍ट

खुद को सॉफ्टवेयर इंजीनियर साबित करने वाला टेस्‍ट पूरा करने के बाद, कस्‍टम्‍स के अधिकारियों ने ओमिन को बताया कि उनके जवाब गलत हैं।

ओमिन ने ट्विटर के जरिए जेएफके एयरेपार्ट का अपना अनुभव साझा किया है। (Source: Reuters/Twitter)

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप द्वारा इमिग्रेशन पर लगाए गए अस्‍थायी बैन की वजह से विदेशियों को बेहद परेशानी हो रही है। बढ़ी हुई सुरक्षा के चलते कई विदेशी मेहमानों का अमेरिका में स्‍वागत पुलिस कर रही है। रविवार को नाइजीरिया के इंजीनियर, 28 वर्षीय सेलेस्‍टीन ओमिन को कस्‍टम्‍स एंड बॉर्डर प्रोटेक्‍शन ऑफिस के कर्मचारियों ने न्‍यूयॉर्क के जॉन. एफ. केनेडी एयरपोर्ट पर हिरासत में ले लिया। एक टेक स्‍टार्ट-अप में काम करने वाले ओमिन पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। उन्‍हें विमान से उतारा गया और फिर उन्‍हें एक टेस्‍ट देकर साबित करना पड़ा कि वह असल में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। ओमिन ने कतर एयरवेज की फ्लाइट में 24 घंटे ट्रेवल करने के बाद हुआ भयावह अनुभव साझा किया है। ओमिन के मुताबिक, उन्‍होंने अपनी ट्रिप के लिए जो शॉर्ट-टर्म वीजा हासिल किया था, उसकी वजह से उन्‍हें परेशान किया गया। ओमिन को किसी तरह की पूछताछ से पहले करीब 20 मिनट तक इंतजार कराया गया।

कई सवाल पूछे जाने के बाद ओमिन को एक छोटे से कमरे में लाया गया और बैठने को कहा गया। एक घंटे तक कमरे में अकेले बैठाने के बाद कस्‍टम्‍स का एक अधिकारी आया और उससे सवालात करने लगा। अधिकारी ने कथित तौर पर ओमिन से पूछा, ”आपका वीजा बताता है कि आप एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं, क्‍या ये सही है?” मौखिक रूप से पुष्टि करने के बाद ओमिन को एक पेपर और पेन देकर बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर उनका ज्ञान जांचने की कोशिश की गई। ओमिन से जो सवाल पूछे गए हैं, वे हैं:

– बाइनरी सर्च ट्री बैलेंस है या नहीं, इसे चेक करने के लिए एक फंक्‍शन लिखिए।

– एब्‍सट्रैक्‍ट क्‍लास क्‍या होती है और आपको उसकी जरूरत क्‍यों पड़ती है।

LinkedIn पोस्‍ट के अनुसार, ओमिन को अपने विभाग में सालों का अनुभव है। वह करीब दो दिन से सोए नहीं थे और मानसिक-शारीरिक रूप से बेहद थके हुए थे। उन्‍हें लगा कि सवाल ‘अस्‍पष्‍ट हैं और उनके कई जवाब हो सते हैं।” एक अन्‍य अफसर ने तो गूगल पर सर्च भी किया कि ”सॉफ्टवेयर इंजीनियर से क्‍या सवाल पूछे जाएं।” ओमिन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी इसका ब्‍योरा दिया है।

खुद को सॉफ्टवेयर इंजीनियर साबित करने वाला टेस्‍ट पूरा करने के बाद, कस्‍टम्‍स के अधिकारियों ने ओमिन को बताया कि उनके जवाब गलत हैं। ओमिन ने LinkedIn से बातचीत में कहा, ”किसी ने मुझे नहीं बताया कि मुझसे क्‍यों पूछताछ की जा रही थी। हर बार मैंने पूछा (अधिकारी से) कि वे मुझसे ये सवाल क्‍यों पूछ रहे हैं तो मुझे चुप करा दिया गया। मैं इसके लिए तैयार नहीं था। अगर मुझे पता होता कि ऐसा कुछ हो सकता है तो मैं तैयारी करके आता। यह भी तब जब मैंने सोचा था कि मैं कभी अमेरिका नहीं जाऊंगा।”

निराशा में बैठे ओमिन आश्‍वस्‍त हो चुके थे कि उन्‍हें अमेरिका में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। तभी एक अधिकारी ने आकर उन्‍हें बताया कि वह जा सकते हैं। बिना कोई सफाई दिए, अधिकारी ने कथित तौर पर कहा, ”देखो, मैं तुम्‍हें जाने दे रहा हूं, लेकिन मुझे तुम ठीक नहीं लगते।”

जीत के बाद बोले डोनाल्‍ड ट्रंप- मैं पूरे अमेरिका का राष्‍ट्रपति, सबके सपने पूरे करेंगे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App