ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी का अमेरिका दौरा: इस बार नहीं होगा मैडिसन स्कवॉयर जैसा बड़ा इवेंट, यह है वजह

इससे पहले ह्यूस्टन में एक सामुदायिक इवेंट की योजना बनाई गई थी जिसके लिए भारतीय समुदाय के लोग खासे उत्साहित थे। लेकिन वर्तमान राजनीतिक माहौल को देखते हुए इसे टाल दिया गया।

चार देशों की यात्रा पर रवाना होते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (Source: PTI)

अमेरिकी दौर पर जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साल 2014 में मैडिसन स्कवॉयर की तरह भारतीय मूल के लोगों से हाई-प्रोफाइल तरीके से मुलाकात नहीं करेंगे। बल्कि 25 और 26 जून को राष्ट्रपति ट्रंप से मुलाकात के दौरान पीएम मोदी भारतीय समुदाय के एक छोटे से तबके के साथ बातचीत में हिस्सा लेंगे। ऐसा समय की कमी और अनुकूल वातावरण ना होने के चलते किया जा रहा है। भारतीय दूतावास ने मामले में जानकारी देते हुए कहा, ‘इस बार भारतीय समुदाय के एक छोटे से तबके के साथ पीएम मोदी मुलाकात करेंगे।’ बता दे कि इससे पहले ह्यूस्टन में एक सामुदायिक इवेंट की योजना बनाई गई थी जिसके लिए भारतीय समुदाय के लोग खासे उत्साहित थे। लेकिन वर्तमान में राजनीतिक माहौल को देखते हुए इसे टाल दिया गया। ये जानकारी इस इवेंट में शामिल एक सदस्य ने इंडियन एक्सप्रेस को दी है।

डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद प्रधानमंत्री मोदी का ये पहला अमरिकी दौरा होगा। हालांकि इससे पहले दोनों नेताओं के बीच करीब तीन बार फोन पर बातचीत हो चुकी है। वहीं विदेश मंत्रालय ने 25 जून ने शुरू होने वाली प्रधानमंत्री की अमेरिकी यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मोदी-ट्रंप के बीच होने वाली ये बातचीत गहरे द्विपक्षीय संबंधों को नई दिशा देगी। मंत्रालय ने आगे कहा कि पीएम मोदी 26 जून को राष्ट्रपति ट्रंप के साथ आधिकारिक बातचीत करेंगे। उनकी चर्चा पारस्परिक हित के मुद्दों पर गहरे द्विपक्षीय संबंधों और भारत-अमेरिका के बीच बहुआयामी रणनीतिक भागीदारी को मजबूत बनाने के लिए नई दिशा प्रदान करेगी। बता दें कि ओबामा प्रशासन में मोदी और ओबामा की रिकॉर्ड आठ बार मुलाकात हुई थी। पीएम मोदी ने वाशिंगटन का तीन बार दोरा किया था जबकि साल 2015 में तत्कालीन राष्ट्रपति ओबामा भारत आए थे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App