ताज़ा खबर
 

गाल और खोपड़ी चीरकर निकल गई लोहे की छड़, 10 साल के इस बच्चे के बचने से सभी हैरान

हादसे के बाद भी जेवियर ने खुद को संभाला और उसी हालत में घर की तरफ दौड़ कर भागा। जेवियर की मां गैबरिली मिलर ने कहा कि उन्होंने अपने बच्चे के चीखने की आवाज सुनी थी।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

अमेरिका के शिकागो में एक 10 साल के मासूम बच्चे के साथ दर्दनाक हादसा हो गया। शुक्र है कि इस हादसे के बाद डॉक्टरों ने एक जटिल ऑपरेशन कर उसे बचा लिया है। बच्चे को जिंदा देख आज सभी हैरान है। यह मासूम बच्चा बीते बुधवार को ट्री हाउस की सीढ़ियों से गिर गया था। हादसे के दौरान वहां लगी लोहे की एक छड़ इस बच्चे की खोपड़ी के पिछले हिस्से को चीरते हुए गालों के आरपार धंस गई। हादसे के बाद यह बच्चा थोड़ी देर के लिए बेसुध हो गया। उस वक्त सब को ऐसा लगा कि इस बच्चे को अब बेहद गंभीर चोट आ गई है और उसका बचना लगभग नामुमकिन है। लेकिन थोड़ी ही देर बाद यह बच्चा उसी अवस्था में अपने पैरों पर खड़ा हो गया। कंसास के मिडवेस्टर्न स्टेट स्थित एक अस्पताल में अपनी सर्जरी कराने के बाद अब यह बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32GB Fine Gold
    ₹ 8299 MRP ₹ 10990 -24%
    ₹1245 Cashback
  • Micromax Bharat 2 Q402 4GB Champagne
    ₹ 2998 MRP ₹ 3999 -25%
    ₹300 Cashback

अस्पताल के चिकित्सकों मुताबिक यह हादसा बच्चे की आंखों, उसके ब्रेन और स्पाईनल कोर्ड समेत शरीर की कई अंगों को बड़ा नुकसान पहुंचा सकता था। लेकिन केस अन्य सभी केसों से बिल्कुल था। 13-14 सेंटीमीटर की एक लोहे की छड़ बच्चे की गर्दन के पिछले हिस्से से उसके गालों के आरपार हो गई और उसके शरीर के किसी नाजुक हिस्से को कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ। विशेषज्ञ सर्जनों की टीम ने जेवियर का ऑपरेशन किया। डॉक्टरों के मुताबिक जेवियर को serious bleeding नहीं हो रही थी। जेवियर की हालत देखने के बाद डॉक्टरों को ऐसा लगा कि जल्दी में उसकी सर्जरी करने के बजाए अगले दिन पूरी तैयारी के साथ उसकी सर्जरी की जाए।

लिहाजा डॉक्टरों ने शनिवार की सुबह जेवियर की सर्जरी की। शुक्रवार की पूरी रात जेवियर इसी हालत में अस्पताल के बेड पर था। चिकित्सकों का कहना था कि जेवियर पूरी रात शांत रहा उसने छड़ को एक बार भी खींचने की कोशिश नहीं की। जेवियर के ऑपरेशन में करीब 100 डॉक्टरों ने हिस्सा लिया। डॉक्टरों ने इस छड़ को पूरी सावधानी से हटाया। इस दौरान इस बात का पूरा ख्याल रखा गया कि यह छड़ उसके ब्रेन के किसी नाजुक हिस्से को नुकसान ना पहुंचाए।

यूएस मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक जेवियर अपने घर के बाहर बने ट्री हाउस पर खेल रहा था। तब ही पेड़ पर हड्डों के झुंड ने अचानक उसपर हमला कर दिया। हमले से घबराया जेवियर अचानक पेड़ से नीचे जा गिरा। सीढ़ियों के पास जमीन पर जेवियर और उसके दोस्त ने पहले से छड़ लगा रखी थी। जमीन पर लगी छड़ उसके खोपड़ी को चीरते हुए उसके गालों में जा धंसी।

हादसे के बाद भी जेवियर ने खुद को संभाला और उसी हालत में घर की तरफ दौड़ कर भागा। जेवियर की मां गैबरिली मिलर ने कहा कि उन्होंने अपने बच्चे के चीखने की आवाज सुनी थी। हैरानी की बात यह भी है कि हादसे के बाद भी जेवियर चलने-फिरने की हालत में था। जेवियर को ऑपरेशन से पहले दो बार अस्पताल भी बदलना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App