scorecardresearch

न्यूयार्क के महापौर ने सिखों की जीवटता की सराहना की

न्यूयार्क के महापौर ने कहा कि इस समुदाय ने समय-समय पर जिन चुनौतियों और भेदभाव का सामना किया और उनसे उबरा, वह समझना अपने आप में रहस्योद्घाटन जैसा है।

न्यूयार्क के महापौर ने सिखों की जीवटता की सराहना की
बैसाखी पर्व के मौके पर सिख श्रद्धालु अमृतसर स्थित स्वर्णमंदिर में दीप जलाते हुए। (पीटीआई फाइल फोटो)

यहां सिखों के विरुद्ध बढ़ती घृणाजनित आपराधिक घटनाओं की पृष्ठभूमि में न्यूयार्क के महापौर ने भेदभाव की चुनौतियों से उबरने और अमेरिका को जीवंत बनाने में इस समुदाय की जीवटता की सराहना की है। बिल डे ब्लासियो ने बृहस्पतिवार को यहां कार्यक्रम में कहा, ‘मैंने न्यूयार्क शहर को जीवंत बनाने में अहम भूमिका के लिए शहर के सभी दक्षिण एशियाई समुदायों की प्रशंसा की है। इस समुदाय के करीब जाना, इस समुदाय का दोस्त बनना और सिख संस्कृति एवं इतिहास का गौरव जानना मेरे लिए सिख समुदाय के बारे में नया रहस्योद्घाटन रहा है।’

न्यूयार्क वासियों को बैसाखी की शुभकामनाएं देते हुए महापौर ने बार-बार भेदभाव का शिकार होने के बावजूद सिखों द्वारा जीवटता प्रदर्शित किए जाने और देश के सामाजिक एवं आर्थिक ताने-बाने में योगदान जारी रखने को लेकर उनकी सराहना की।

उन्होंने कहा कि इस समुदाय ने समय-समय पर जिन चुनौतियों और भेदभाव का सामना किया और उनसे उबरा, वह समझना अपने आप में रहस्योद्घाटन जैसा है। उन्होंने सिख समुदाय को इस शहर और अमेरिका को बहुत कुछ प्रतिदान देने के लिए उनके प्रति आभार प्रकट किया।

महापौर की यह टिप्पणी हाल के महीनों में सिखों के खिलाफ नफरत के चलते अपराधों में वृद्धि की पृष्ठभूमि में आई है। पिछले साल 9/11 की बरसी पर इलिनियोस में 53 वर्षीय इंदरजीत सिंह मुक्कर पर एक किशोर ने आतंकवादी बताते हुए हमला किया था। मार्च में बलविंदर जीत सिंह पर नृशंस हमला करने को लेकर व्यक्ति के खिलाफ नफरतजनित अपराध का आरोप दर्ज किया गया।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट