ताज़ा खबर
 

अलास्का एयरलाइंस के विमान में शर्मनाक हरकत, मार्क जुकरबर्ग की बहन से छेड़छाड़

मार्क जुकरबर्ग की बहन रैंडी जुकरबर्ग के साथ विमान में शर्मनाक हरकत सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है।

Author नई दिल्ली | December 2, 2017 4:33 PM
रैंडी जुकरबर्ग (फाइल फोटो)

अमेरिका की अलास्का एयरलाइंस में शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क जुकरबर्ग की बहन के साथ छेड़छाड़ की घटना सामने आई है। विमानन कंपनी ने मामले की जांच करने बात कही है। मार्क जुकरबर्ग की बहन रैंडी जुकरबर्ग के साथ विमान में शर्मनाक हरकत सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। आरोप है कि फ्लाइट अटेंडेंट ने आरोपी यात्री को रोकने की कोशिश नहीं की बल्कि उलटे रैंडी को सीट बदलने की सलाह दे डाली। अलास्का एयरलाइंस ने विमान में यौन उत्पीड़न की
गंभीर घटना की छानबीन कराने की पुष्टि की है।

रैंडी जुकरबर्ग ने बुधवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिये सहयात्री द्वारा सेक्सुअल हैरेसमेंट की जानकारी साझा की थी। जानकारी के मुताबिक रैंडी लॉस एंजिलिस से मजाटलान, मैक्सिको जा रही थीं, जब उनके साथ यह शर्मनाक घटना हुई। रैंडी ने सिएटल की विमानन कंपनी को पत्र लिखकर भी इसकी शिकायत की है। उन्होंने बताया कि वह विमान के फर्स्ट क्लास से यात्रा कर रही थीं। उनके पास बैठा यात्री उनपर और पास बैठे अन्य यात्रियों पर लगातार भद्दे कमेंट कर रहा था। उसने कई बार शराब भी मंगवाई थी। आरोपी यात्री खुद को बार-बार छूकर रैंडी से कह रहा था कि क्या वह अपने साथ यात्रा करने वाले सहयात्रियों को लेकर कल्पनाएं करती हैं?

इतना ही नहीं वह यात्री विमान में चढ़ने वाली अन्य महिला यात्रियों के शारीरिक हावभाव पर भी लगातार कमेंट पास कर रहा था। रैंडी ने बताया कि उन्होंने उस व्यक्ति की शिकायत फ्लाइट अटेंडेंट से भी की लेकिन उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया। इसके बजाय अटेंडेंट ने बताया कि आरोपी व्यक्ति नियमित यात्री है और वह इसे व्यक्तिगत तौर पर न लें। रैंडी के अनुसार, अटेंडेंट ने उन्हें विमान के पिछले हिस्से में सीट मुहैया कराने का प्रस्ताव भी दिया था। रैंडी ने लिखा, मैं सीट बदलने के लिए तैयार भी हो गई थी, तभी अचानक मुझे लगा कि मैं क्यों सीट बदलूं? मैं उनमें हूं जिन्हें हैरेस किया गया।

विमानन कंपनी ने परेशान करने वाले दावे को लेकर रैंडी से संपर्क भी साधा है। अलास्का एयरलाइंस ने बताया कि जांच पूरी होने तक आरोपी यात्री को प्राप्त यात्रा विशेषाधिकार समाप्त कर दिया गया है। अमेरिका में विमानन कंपनियों द्वारा धर्म और नस्ल के आधार पर भेदभाव करने की घटनाएं पहले भी सामने आती रही हैं। खासकर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले के बाद से इस तरह की घटनाएं बढ़ी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App