scorecardresearch

Colorado Shooting: अमेरिका के कोलोराडो नाइट क्लब में चली ताबड़तोड़ गोलियां, 5 की मौत, 18 घायल

Colorado Firing: कोलोराडो पुलिस ने बताया कि एक संदिग्ध को हिरासत में ले लिया गया है और फिलहाल उसको भी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। यह घटना कोलोराडो स्प्रिंग्स के क्लब क्यू की है।

Colorado Shooting: अमेरिका के कोलोराडो नाइट क्लब में चली ताबड़तोड़ गोलियां, 5 की मौत, 18 घायल
कोलोराडो के एक क्लब में चली गोलियां (फोटो- रॉयटर्स)

Colorado Springs Night Club: अमेरिका के कोलोराडो (Colorado) में शनिवार (19 नवंबर, 2022) को एक नाइट क्लब में फायरिंग में 5 लोगों की मौत हो गई, जबकि 18 लोग घायल हो गए हैं। यहां एक गे नाइट क्लब (Gay Night Club) में पार्टी चल रही थी, इसी दौरान यहां ताबड़तोड़ गोलियां चलीं। कोलोराडो पुलिस ने बताया कि एक संदिग्ध को हिरासत में ले लिया गया है और फिलहाल उसको भी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। यह घटना कोलोराडो स्प्रिंग्स शहर के क्लब क्यू (Colorado Springs Q Club) की है। लेफ्टिनेंट पामेला कास्त्रो ने एक कोंफ्रेंस में बताया कि फायरिंग में संदिग्ध को भी चोटें आई हैं।

कास्त्रो ने कहा कि पुलिस को देर रात एक फोन कॉल आया था और उन्हें नाइट क्लब में फायरिंग की जानकारी दी गई थी। अधिकारियों ने क्लब के अंदर एक शख्स को भी हिरासत में लिया, जिसे संदिग्ध बताया जा रहा था। हालांकि, अभी तक उसने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है कि इस हमले के पीछे का मकसद क्या था। उसने इस बारे में भी कोई जानकारी नहीं दी है कि फायरिंग में किस तरह के हथियार का इस्तेमाल किया गया था।

गूगल पर सर्च करने से पता चलता है कि क्लब क्यू समलैगिंक लोगों के लिए कैरोके, ड्रैग शो और डीजे नाइट का आयोजन करता है। क्लब ने अपने फेसबुक पेज पर एक बयान में कहा कि हमला करने वाले को पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अपने कब्जे में लिया, जिसके लिए उन्होंने प्रशासन को धन्यवाद कहा है।

घटना के बाद पुलिस ने सुबह 4 बजे क्लब और उसके आसपास के क्षेत्र को बंद कर दिया था। यह क्लब कोलोराडो स्प्रिंग्स के बाहरी इलाके में एक स्ट्रिप मॉल में स्थित है। बता दें कि इससे पहले साल 2016 में भी इसी तरह की एक घटना देखने को मिली थी। उस समय एक बंदूकधारी ने फ्लोरिडा के ऑरलैंडो में समलैंगिक नाइट क्लब में 49 लोगों की हत्या कर दी थी। अमेरिका के इतिहास में यह उस समय की सबसे भीषण सामूहिक गोलीबारी की घटना थी।

शूटर ने इस्लामिक स्टेट के एक नेता के प्रति निष्ठा का दावा किया था। हालांकि, वह पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया था।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 20-11-2022 at 05:51:31 pm
अपडेट