ताज़ा खबर
 

चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध लगाए जाने से भारत को होगा नुकसानः चीनी मीडिया

चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध कड़े करने के संबंध में भारत के विचार करने संबंधी खबरों के बीच, चीन के आधिकारिक मीडिया ने आज कहा कि इस तरह के कदम से भारत को अधिक नुकसान होगा।

Author बीजिंग | Updated: April 6, 2016 1:01 PM
america, usa, china, beijing, india, america, international newsचीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध कड़े करने के संबंध में भारत के विचार करने संबंधी खबरों के बीच, चीन के आधिकारिक मीडिया ने आज कहा कि इस तरह के कदम से भारत को अधिक नुकसान होगा।

सरकार संचालित ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में कहा गया, ‘‘यदि भारत चीनी कंपनियों पर सुरक्षा प्रतिबंध कड़े करता है, यदि वह चीनी कंपनियों को दी गई सुरक्षा मंजूरी को खत्म करता है तो इससे भारत को अधिक नुकसान होगा ।’’

यह लेख भारत में आधिकारिक सूत्रों द्वारा यह कहे जाने के बाद आया है कि पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर आतंकी हमले के मद्देनजर संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रयासों में चीन द्वारा रोड़ा लगाए जाने के बाद सुरक्षा प्रतिष्ठान का मत है कि चीनी कंपनियों को दी गई सुरक्षा मंजूरी की समीक्षा की जानी चाहिए।

Read Also:पनामा पेपर्स में लगाए आरोपों को खारिज किया चीन ने

Read Also: हॉक्स बे कप के रोमांचक मुकाबले में चीन से हारा भारत

शंघाई एकेडमी आॅफ सोशल साइंसेज में इंस्टिट्यूट आॅफ इंटरनेशनल रिलेशंस से जुड़े शोध सदस्य हू झियोंग ने कहा, ‘‘चीनी कंपनियां संभावित सुरक्षा मंजूरी समीक्षा के चलते भारत में अपनी विस्तार योजनाओं के बारे में दो बार सोच सकती हैं। इस तरह, भारत का विकास, जो इसके आधारभूत ढांचे में सुधार के लिए चीन पर निर्भर है, बाधित होगा ।’’

Next Stories
1 मोदी द्वारा आलोचना के बाद UN ने आतंकवाद पर दी प्रतिक्रिया पर किया बचाव
2 Wisconsin primary 2016: मुश्किल में हिलेरी और ट्रंप, क्रूज, सैंडर्स ने दिया झटका
3 साउथ अफ्रीकी राष्ट्रपति जैकब जुमा को अफ्रीकी नेशनल कांफ्रेन्स का मिला सपोर्ट, हटा महाभियोग
ये पढ़ा क्या?
X