ताज़ा खबर
 

SCO समिट: अंतर्राष्ट्रीय मंच पर नवाज शरीफ के कान में क्या फुसफुसाया पाकिस्तानी आर्मी ऑफिसर

भारत और पाकिस्तान आज (9 जून को) शंघाई सहयोग संगठन के पूर्णकालिक सदस्य बन गये। यह चीन के प्रभुत्व वाले इस सुरक्षा समूह का पहला विस्तार है।

पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ से बात करता पाक सेना का अधिकारी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ देश में हों या देश के बाहर, फौज का साया उनका पीछा नहीं छोड़ता है। कुछ ऐसा ही वाकया कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में देखने को मिली, जहां नवाज शरीफ शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक को संबोधित करने वाले थे। शुक्रवार (9 जून) को नवाज शरीफ SCO समिट को संबोधित करने वाले थे। इससे पहले पाक आर्मी का एक ऑफिसर उनके पास आया और कान में कुछ कहने लगा, पाकिस्तानी पीएम ने इस आर्मी अफसर की बात को पूरे गौर से सुना और आखिर में हामी भरी। इसके बाद ये ऑफिसर वहां से चला गया। इस घटना के बाद राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि क्या अस्ताना में भी पाक पीएम अपनी मन की बात नहीं कह पाये। क्या नवाज शरीफ शंघाई सहयोग संगठन के सम्मेलन में भी सेना की भाषा बोल रहे हैं? पाक पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि पाकिस्तान खुद ही आतंक से पीडित है।

बता दें कि भारत और पाकिस्तान आज (9 जून को) शंघाई सहयोग संगठन के पूर्णकालिक सदस्य बन गये। यह चीन के प्रभुत्व वाले इस सुरक्षा समूह का पहला विस्तार है। इस संगठन को नाटो का शक्ति-संतुलन करने वाले संगठन के तौर पर देखा जा रहा है।रूस ने एससीओ में भारत की सदस्यता की पुरजोर वकालत की थी वहीं समूह में पाकिस्तान के प्रवेश का समर्थन चीन ने किया था। साल 2001 में गठन के बाद से संगठन के पहले विस्तार के बाद अब एससीओ 40 प्रतिशत आबादी और वैश्विक जीडीपी के करीब 20 प्रतिशत हिस्से का प्रतिनिधित्व करेगा। एससीओ के सदस्य के रूप में भारत आतंकवाद से निपटने के लिए समन्वित कार्रवाई पर जोर देने में और क्षेत्र में सुरक्षा तथा रक्षा से जुड़े विषयों पर व्यापक रूप से अपनी बात रख सकता है।फिलहाल एससीओ की अध्यक्षता कर रहे कजाकिस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव ने यहां संगठन के शिखर-सम्मेलन में घोषणा करते हुए कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान अब एससीओ के सदस्य हैं। यह हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण क्षण है।’’

इससे पहले अस्ताना में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात की थी। पीएम मोदी ने नवाज शरीफ की सेहत के बारे में पूछताछ की थी, साथ ही उनकी मां की तबीयत के बारे में भी पूछा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App