ताज़ा खबर
 

पति और बेटी के सामने महिला से गैंगरेप करने वालों को 7000 कोड़ों की सजा

सऊदी अरब की एक कोर्ट ने महिला के साथ रेप करने के मामले में आरोपियों को दोषी करार देते हुए कुल 52 साल जेल और 7000 हजार कोड़ों की सजा सुनाई है।

गैगरेप मामले में चार लोगों को मिली 7000 कोड़े की सजा। (Photo Source: Representative Image/Youtube)

सऊदी अरब की एक कोर्ट ने महिला के साथ रेप करने के मामले में आरोपियों को दोषी करार देते हुए कुल 52 साल जेल और 7000 हजार कोड़ों की सजा सुनाई है। चारों दोषियों द्वारा यह कबूल करने पर कि उन्होंने महिला के पति और बेटी के सामने उसके साथ गैंगरेप किया है, कोर्ट ने यह सजा दी। जेद्दाह की एक कोर्ट ने तीन सऊदी और एक सूडानी शख्स के गैंग को कुल 7000 कोड़ों की सजा सुनाई है। पहले आरोपी को कोर्ट 17 साल की सजा और 2500 कोड़ों की सजा दी है, उसकी उम्र इस समय 17 साल है। वहीं, उसके दो और साथियों को 15 साल की सजा और 1500 कोड़ों की सजा दी है। सऊदी दैनिक अल रियाद के मुताबिक चौथे को पांच साल जेल और 1500 कोड़ों की सजा दी गई है।

आरोपी जेद्दाह के एक घर में घुसे थे और उस घर के मालिक को बिजली के तार से बांधकर उसकी पत्नी के साथ रेप किया। रेप के दौरान महिला के पति के साथ-साथ उसकी बेटी भी वहीं मौजूद थी। उन्होंने से घर से 10000 सऊदी रियाल और 8 मोबाइल फोन भी चुराए। यही नहीं वे लोग फिर से घर वापस आए को चांकू की नोंक पर महिला के साथ फिर से रेप किया। चारों लोगों ने गिरफ्तार होने के बाद अपना जुर्म कबूल किया था। सोशल मीडिया पर कई लोग आरोपियों को मौत की सजा देने की मांग कर रहे थे। इससे पहले सऊदी प्रिंस को भी जेद्दाह में जेल कोड़े की सजा मिली थी।

HOT DEALS
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 15750 MRP ₹ 29499 -47%
    ₹0 Cashback
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback

वीडियो: 14 साल की दलित लड़की के साथ 4 लोगों ने गैंगरेप किया

सऊदी अरब, संयुक्त अरब गठबंधन का प्रमुख सहयोगी और इस्लाम के जन्म स्थान का अभिभावक है, यहां वहाबी सुन्नी मुस्लिम स्कूल का कड़ाई से पालन किया जाता है, जिसमें शरिया कानून भी शामिल है। पिछले महीने एक कोर्ट द्वारा एक शख्स को जान से मारने पर सऊदी प्रिंस को रियाद से बाहर कर दिया गया था। वहीं साल 2010 में प्रिंस साउद बिन अब्दुलअजीज बिन नासिर (34) को लंदन के एक होटल में नौकर को मारे देने के जुर्म में आजीवन कारावास की सजा हुई थी। बाद में उसे एक विवादित डील के तहत साउदी अरब डिपोट कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App