ताज़ा खबर
 

सऊदी किंग सलमान की बड़ी कार्रवाई, प्रदर्शन कर रहे 11 प्रिंस गिरफ्तार, आतंकियों की जेल में रखा जाएगा

इससे पहले सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलअजीज अल सऊद ने 21 जून, 2017 को अपने भतीजे को बेदखल कर बेटे मोहम्मद बिन सलमान को उत्तराधिकारी घोषित कर दिया था।

अपने बेटे के साथ सऊदी किंग सलमान (फोटो सोर्स सोशल मीडिया)

सऊदी अरब के एक शाही महल में विरोध प्रदर्शन कर रहे 11 शहजादों को गिरफ्तार किया गया है। अब इनके खिलाफ मुकदमा चलाया जाएगा। सरकार से जुड़ी वेबसाइट ‘सबक’ ने अधिकारियों के हवाले से खबर दी है कि शाही परिवार की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाले नेशनल गार्ड की एक इकाई को इन शहजादों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया। खबर में कहा गया है कि गिरफ्तार किए गए शहजादों को राजधानी रियाद की ‘हायर’ कारागार भेजा गया है। इस कारागार में अपराधियों, चरमपंथियों और अलकायदा के आतंकवादियों को रखा जाता है। वेबसाइट के मुताबिक गिरफ्तार किए गए शहजादे अपने एक रिश्तेदार से जुड़े अदालती फैसले के संदर्भ में वित्तीय मुआवजे की मांग और शाही परिवार के लोगों के बिजली एवं पानी के बिल के सरकारी भुगतान को रोकने के फैसले को बदलने की मांग कर रहे थे।

बता दें कि इससे पहले सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलअजीज अल सऊद ने 21 जून, 2017 को अपने भतीजे को बेदखल कर बेटे मोहम्मद बिन सलमान को उत्तराधिकारी घोषित कर दिया था। बेटे को उत्तराधिकारी घोषित करने के बाद 57 साल के भतीजे मोहम्मद बिन नायेफ की सारी शक्तियां छीन ली गईं। सऊदी की रॉयल न्यूज एजेंसी के अनुसार मोहम्मद बिन सलमान को उप प्रधानमंत्री पद सहित रक्षा मंत्रालय का पद संभालने की भी बात कही गई। 81 साल की उम्र में सऊदी किंग बने सलमान के दो साल के उतार-चढ़ाव भरे कार्यकाल में मोहम्मद बिन सलमान को प्रिंस बनाने की तैयार पहले से नजर आने लगी थीं। क्योंकि प्रिंस नायेफ की सारी शक्तिया धीरे-धीरे छीनी जाने लगी थीं। अब प्रिंस का खिताब छीनने के साथ ही उनसे मुल्क के सबसे ताकतवर आंतरिक सुरक्षा मंत्री का पद भी छीन लिया गया।

HOT DEALS
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 25000 MRP ₹ 26000 -4%
    ₹0 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹2000 Cashback

बता दें कि मोहम्मद नायेफ को एक अनुभवी कानून प्रवर्तनकर्ता हैं, जिन्हें साल 2003-2006 में अल-कायदा के खिलाफ लड़ने के लिए पश्चिम देशों में अच्छी तरह से जाना जाता है। इस दौरान उन्होंने अलकायदा के बम विस्फोटों को भी नाकाम किया था। साल 2015 में भी किंग सलमान ने मिसाल पेश करते हुए क्राउन प्रिंस मोकरिन बिन अब्दुल अजीज बिन सऊद को बेदखल किया था। क्राउन प्रिंस को बेदखल करने के बाद सऊदी किंग सलमान ने मोहम्मद बिन नायेफ को क्राउन प्रिंस बनाया था। वहीं मोकरिन को किंग अब्दुल्लाह के शासनकाल में प्रिस बनाया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App