ताज़ा खबर
 

सऊदी अरब ने दुनिया को दिखाया बम बरसाने वाला अपना नया विमान, मिसाइल से लैस है यह दैत्‍याकार जहाज

सऊदी अरब अपने लड़ाकू विमानों के बेड़े में 84 F-15SA विमान शामिल करेगा। इसके लिए साल 2011 में 30 बिलियन डॉलर की डील की गई थी।

किंग फैसल एयर कॉलेज की 50वीं वर्षगांठ पर आयोजित एयर शो में F-15SA फाइटर जेट देखने को मिले। (Photo Source: REUTERS) किंग फैसल एयर कॉलेज की 50वीं वर्षगांठ पर आयोजित एयर शो में F-15SA फाइटर जेट देखने को मिले। (Photo Source: REUTERS)

सऊदी अरब ने बम बरसाने वाला अपने नए विमान का बुधवार को अनावरण किया है। यमन के साथ विवादित हवाई जंग छिड़ने के दो साल बाद इस विमान को लॉन्च किया गया है। इस F-15SA Eagle एयरक्राफ्ट की लॉन्चिंग सऊदी अरब की राजधानी में एक समारोह और एयर शो के दौरान की गई। इसे अमेरिका की कंपनी बोइंग ने बनाया है। यह जहाज मिसाइल से लैस है। जहाज में मिसाइल उसकी पीछे की साइड में लगाई गई है।

इसे सऊदी अरब के राजा सलमान और उनके बेटे, रक्षामंत्री और डिप्टी युवराज मोहम्मद बिन सलमान ने किंग फैसल एयर अकेडमी की 50वीं वर्षगांठ पर लॉन्च किया है। सूडान के राष्ट्रपित उमर अल-बशीर भी इस समारोह में मौजूद थे। सूडान यमन में विद्रोहियों से लड़ रहे सऊदी समर्थित गुट के साथ है।

सऊदी समर्थन वाले गुट ने यमन में मार्च 2015 में हवाई हमले शुरू किए थे। ये हमले ईरानी से समर्थन हासिल हूती विद्रोही और पूर्व राष्ट्रपित अली अब्दुल्लाह सलेह के समर्थिक गुटों द्वारा यमन में गृहयुद्ध छेड़ने के बाद शुरू किए गए थे। हूती विद्रोह यमन के उत्तरी भाग में आरम्भ हुआ था। इसकी शुरुआत जून 2004 में हुई थी। यह विद्रोह तब शुरू हुआ था जब धर्मगुरू हुसैन बद्द्रुद्दीन अल-हूती ने यमन सरकार के विरुद्ध विद्रोह आरम्भ कर दिया।

सऊदी अरब को डर था कि हूती विद्रोही पूरे यमन पर कब्जा कर लेंगे और शिया बहुल मुल्क ईरान में मिला देंगे जो कि सुन्नी बहुल सऊदी अरब का विरोधी है। हालांकि, सऊदी अरब द्वारा बम गिराए जाने से नागरिकों की मौत होने पर कई मानव अधिकार संगठनों ने इसकी आलोचना भी की थी। सऊदी अरब अपने लड़ाकू विमानों के बेड़े में 84 F-15SA विमान शामिल करेगा। इसके लिए साल 2011 में 30 बिलियन डॉलर की डील की गई थी। इनमें ब्लैक हॉक और अपाचे हेलीकॉप्टर्स भी शामिल हैं। इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्ट्रेटेजिक स्टडीज के मुताबिक सऊदी अरब की वायुसेना में 20 हजार जवान हैं और 313 लड़ाकू विमान हैं। इनमें ज्यादात्तर F-15 वर्जन के हैं।

Next Stories
1 भारत को कश्मीर में अपने अपराधों के लिए ‘जिम्मेदार’ ठहराया जाए: पाकिस्तान
2 जब बात आतंकवाद की हो तो डोनाल्ड ट्रंप ‘जहर से जहर को मारने’ में यकीन करते हैं
3 ‘कुछ मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगा सकता है अमेरिका’
यह पढ़ा क्या?
X