ताज़ा खबर
 

Samsung ने कर्मचारियों, उनके परिजनों से मांगी माफी, सेमीकंडक्टर कारखाने में काम करने से हो गया था कैंसर

दक्षिण कोरिया की सैमसंग इलैक्ट्रॉनिक्स ने शुक्रवार को अपने उन कर्मचारियों और उनके परिवारों से माफी मांगी जो उसके सेमीकंडक्टर के कारखानों में काम करते वक्त कैंसर से पीड़ित हो गए थे।

Author सियोल | November 23, 2018 5:11 PM

दक्षिण कोरिया की सैमसंग इलैक्ट्रॉनिक्स ने शुक्रवार को अपने उन कर्मचारियों और उनके परिवारों से माफी मांगी जो उसके सेमीकंडक्टर के कारखानों में काम करते वक्त कैंसर से पीड़ित हो गए थे। इसी के साथ चिप बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी का यह दशक भर लंबा विवाद खत्म हो गया। कंपनी के उपाध्यक्ष किम की-नाम ने कहा, ‘‘हम उन कर्मचारियों और उनके परिवारों से दिल से माफी मांगते हैं जिन्हें कैंसर की बीमारी हुई।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम अपने सेमीकंडक्टर और एलसीडी कारखानों में स्वास्थ्य जोखिमों का ठीक से प्रबंधन करने में नाकाम रहे थे।’’ सैमसंग इलैक्ट्रॉनिक्स दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फोन और चिप बनाने वाली कंपनी है।

गौरतलब है कि सैमसंग की सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले कारखाने में काम करने वाले करीब 240 कर्मचारी काम के दौरान बीमार पड़े। इसमें से करीब 80 की मौत हो गई। यह कर्मचारी 16 तरह के कैंसर से पीड़ित हैं। इसमें भी कुछ के बच्चों को भी इस तरह की बीमारियां हुई हैं। यह मामला 1984 से जुड़ा है और इसका पहली बार खुलासा 2007 में हुआ था।
इसके खिलाफ अभियान चलाने वाले समूहों के अनुसार इस संबंध में इस महीने की शुरुआत में कंपनी ने एक मुआवजा नीति की घोषणा की है। इस नीति के अनुसार सैमसंग हर पीड़ित कर्मचारी को 15 करोड़ वॉन (1,33,000 डॉलर) का मुआवजा देगी।

बता दें कि हाल ही में दक्षिण कोरियाई प्रौद्योगिकी कंपनी, सैमसंग ने गैलेक्सी ए9 मॉडल भारत में लांच किया है। यह पहला स्मार्टफोन है, जिसमें चार पिछले कैमरे हैं। यह दुनिया का पहला स्मार्टफोन है, जिसमें चार पिछले कैमरे हैं और कंपनी का पहला स्मार्टफोन है, जिसमें डुअल टोन, रिफ्लेक्टिव ग्रेडिएंट डिजाइन है। गैलेक्सी ए9 के छह जीबी रैम वाले स्मार्टफोन की कीमत 36,990 रुपये और आठ जीबी रैम वाले स्मार्टफोन की कीमत 39,990 रुपये है। सैमसंग इंडिया के वैश्विक उपाध्यक्ष आसिम वारसी ने यहां संवाददाताओं को बताया, “इस साल लांच किया गया हमारा अंतिम मॉडल भारत में आ गया है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App