ताज़ा खबर
 

रैपर हार्ड कौर खालिस्तान समर्थकों के साथ आईं नजर, पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को बोले अपशब्द

वीडियो में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह डरते हैं, इसलिए मोदी सेना के पीछे रहते हैं और अपना एजेंडा लागू करते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: August 11, 2019 3:26 PM
ब्रिटिश-इंडियन सिंगर और रैपर हार्ड कौर ने वीडियो में भारतीय सेना और प्रशासन के विरोध के अलावा पीएम मोदी और अमित शाह की भी खूब आलोचना की है। (वीडियो स्क्रीन शॉट)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ और आरएसएस चीफ मोहन भागवत के खिलाफ विवादित बयान देने वाली रैपर हार्ड एक बार फिर विवादों में हैं। अब उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के खिलाफ अपशब्द कहे हैं। प्रो खालिस्तानी समर्थकों के साथ एक वीडियो में नजर आ रहीं हार्ड कौर ने भारत से अलग आजाद खालिस्तान जैसी असंवैधानिक मांग भी की है।

ब्रिटिश-इंडियन सिंगर और रैपर हार्ड कौर ने वीडियो में भारतीय सेना और प्रशासन का विरोध करते हुए कहा कि उन्होंने किसी को नहीं मारा। बता दें कि यह बात उन्होंने खुद पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करने के खिलाफ कही। सोशल मीडिया में मोहन भागत और योगी आदित्य नाथ के खिलाफ विवादित पोस्ट करने के चलते उनके खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था।

वीडियो कौर कहती नजर आ रही हैं, ‘मैंने किसी को मारा नहीं है। मैं किसी का रेप नहीं करती। मैं सिर्फ आलोचना करती हूं, जोकि मेरा अधिकार है। मेरा हक है। जो लड़कियां यह वीडियो देख रही हैं उन्हें पता होना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने कभी अपनी वीडियो में एक बंदूक नहीं रखी। मैंने कभी बंदूकों की बात नहीं की। मेरे दिमाग और हाथ में खूब ताकत है।’

खालिस्तान की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि ‘यह हमारा हक है जिसे लेकर रहेंगे। यह वाला 15 अगस्त सिखों के लिए स्वतंत्रता दिवस नहीं है। इसलिए 15 अगस्त को सभी खालिस्तानी झंडे फहराएं और उन्हें दिखाइए की हम शांत नहीं बैठेंगे। इसके लिए यूके में भारतीय हाईकमिशन के सामने हम खालिस्तान का झंडा लहराएंगे।’

वीडियो में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह डरते हैं। इसलिए मोदी सेना के पीछे रहते हैं और अपना एजेंडा लागू करते हैं। वो लोगों को डराते हैं। इसलिए यह 15 अगस्त सिखों के लिए स्वतंत्रता दिवस नहीं है। इनसे (भारत सरकार) डरने की कोई जररुत नहीं है। बहुत समय से ये हमें चुप करा रहे हैं।

जानना चाहिए कि रैपर हार्ड कौर का जन्म 29 जुलाई 1979 को उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुआ था। उनका असली नाम तरुण कौर ढिल्लन है। उन्होंने बॉलीवुड में बतौर एक्ट्रेस और लीड सिंगर काम किया है। हार्ड कौर खुद को पहली भारतीय महिला रैपर भी कहती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 यह पोर्न एक्ट्रेस कराना चाहती थी अपने बच्चों के पिता की हत्या, पुलिसवाले को ही दे दी सुपारी!
2 कुवैत से पत्नी को वाट्सऐप पर दे दिया तीन तलाक
3 समझौता एक्सप्रेस रुकी पर जारी है दिल्ली-लाहौर बस सेवा: तनाव के बीच उम्मीदों की यात्रा