ताज़ा खबर
 

सीनेटर पर एंकर का आरोप- मैं सो रही थी, उसने छू लिए थे मेरे अंग, किया किस

यह मामला साल 2006 का है। फ्रैंकन तब कॉमेडियन थे और वह मीडिल ईस्ट में अमेरिकी टुकड़ियों के सामने परफॉर्मेंस देने के लिए तैयारियां कर रहे थे।

महिला एंकर के आरोप लगाने के बाद सीनेटर की ओर से उस पर माफी मांगी गई है। (फोटोः फेसबुक)

अमेरिका के वॉशिंगटन में गुरुवार को सीनेटर अल फ्रैंकन पर एक महिला एंकर ने गंभीर आरोप लगाए हैं। रेडियो में काम करने वाली महिला का कहना है कि सीनेटर ने नींद के दौरान उन्हें छुआ था और बाद में जबरन किस किया था। यह मामला साल 2006 का है। फ्रैंकन तब कॉमेडियन थे और वह मीडिल ईस्ट में अमेरिकी टुकड़ियों के सामने परफॉर्मेंस देने के लिए तैयारियां कर रहे थे। एंकर लीनैन ट्वीडेन ने लॉस एंजलिस के स्टेशन केएबीसी की वेबसाइट पर इस बाबत अपनी आपबीती के बारे में बताया, जिसमें छेड़छाड़ की बात थी। गुरुवार को इसके बाद फ्रैंकन की ओर माफी मांगी गई। सीनेट में डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं ने फैंकन पर लगे आरोपों की समीक्षा के लिए एक एथिक्स कमेटी का गठन किया है। उनका कहना है कि इस मामले में फ्रैंकन पूरा सहयोग देंगे।

ट्वीडेन ने बताया कि फ्रैंकन ने एक नाटक (स्किट) लिखा था, जिसमें उन दोनों के बीच एक किस होना था। वह बार-बार उसी की रिहर्सल करने पर जोर दे रहे थे। अचानक उन्होंने जोर से किस कर लिया, जिस पर ट्वीडेन ने उन्हें धक्का दिया। आरोप है कि नींद के दौरान फ्रैंकन ने फ्लाइट में नींद के दौरान उन्हें बुरी नीयत से छुआ था। ट्वीडेन ने फ्रैंकन के साथ उस वक्त की एक फोटो भी पोस्ट की थी, जिसमें वह उनकी छाती पर हाथ रखे दिख रहे थे। तस्वीर में ट्वीडेन की आंखें इस दौरान बंद थीं।

इधर, सीनेटर की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया कि उन्हें रिहर्सल के बारे में ठीक से याद नहीं है। लेकिन वह ट्वीडेन से माफी मांगते हैं। ट्वीडेन के मुताबिक, उन्होंने किस को हमले के तौर पर जरूर लिया, लेकिन वह उन्होंने सीनेटर को माफ किया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस तस्वीर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उसे बहुत बुरा बताया है।

ट्वीडेन ने घटना के दौरान का एक फोटो भी पोस्ट किया था, जिसमें सीनेटर उन्हें गलत तरीके से छूते नजर आ रहे हैं। (फोटोः फेसबुक)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App