ताज़ा खबर
 

यहां साढ़े 6 हजार रुपये में बिक रही बीयर, सरकार वसूलती है ‘पाप टैक्‍स’

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक इससे पहले क़तर में 'पाप टैक्स' लगने के बाद 24 हेनिकेन बीयर का पैक 105 डॉलर (7299 रुपये) में बिकने लगा। जबकि, पहले इसकी कीमत 53 डॉलर (2750 रुपये) थी।

क़तर समेत अधिकांश खाड़ी देशों में गैर-मुस्लिम प्रवासियों के शराब पीने पर प्रतिबंध है। शराब खरीदने के लेने के लिए उन्हें सर्टिफिकेट की जरूरत होती है। (फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

दुनिया भर में बीयर के शौकीनों की संख्या काफी ज्यादा है। थकान मिटानी हो या दोस्तों के साथ पार्टी करनी हो, बीयर सबका फेवरिट होता है। लेकिन, अगर आपको एक कैरेट बीयर के लिए 6 हजार रुपये से अधिक की कीमत चुकानी पड़े तो जाहिर तौर पर आपकी चिंता बढ़ जाएगी। ऐसा ही हुआ है खाड़ी देश क़तर में। यहां पर बीयर के ऊपर ‘पाप टैक्स’ लगाए जाने से इसकी कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। कीमतों में इजाफे को देखते हुए इसका असर सोशल मीडिया पर भी दिखाई दिया।  इस फैसले के खिलाफ ना सिर्फ क़तर बल्कि दुनिया भर से आवाज उठी। दुनिया की मीडिया में चर्चा के बाद इसकी कीमतों में थोड़ी बहुत राहत जरूर दी गई। लेकिन, अभी भी यहां 24 बीयर की कीमत लगभग साढ़े 6 हजार रुपये है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक इससे पहले क़तर में ‘पाप टैक्स’ लगने के बाद 24 हेनिकेन बीयर का पैक 105 डॉलर (7299 रुपये) में बिकने लगा। जबकि, पहले इसकी कीमत 53 डॉलर (2750 रुपये) थी। लेकिन, जब दुनिया भर से बढ़ी हुई कीमतों को लेकर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं आने लगीं तो यहां के एक शराब की दुकान ने इसकी कीमतों में कमी का फैसला किया और इसे 92 डॉलर (करीब साढ़े 6 हजार रुपये) में बेचना शुरू किया।

तमाम खाड़ी देशों में बाहरी देशों के गैर-मुस्लिम नागरिकों को शराब पीने पर प्रतिबंध है। अगर वहां रहने वाला दूसरे देश का कोई नागरिक शराब पीना चाहता है तो उसे इसके लिए परमिशन सर्टीफिकेट लेना होगा। तभी उसे स्टोर से शराब मिल सकेगी। इस देश के दोहा शहर के बाहरी इलाके में स्थित एक चर्च के पास शराब की दुकानें हैं। लोग यहीं से परमिशन के आधार पर शराब ले सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App