ताज़ा खबर
 

इतना भारी हो गया विमान कि नहीं भर सका उड़ान, 40 यात्रियों को उतारा गया नीचे

कंटास एयरलाइंस के प्रवक्ता ने डेली मेल ऑस्ट्रेलिया को बताया कि विमान के ईंधन पंप ने प्लेन की लोडिंग से जुड़ी कुछ समस्या दिखाई थी इस वजह से 40 यात्रियों को नीचे उतरने के लिए कहा गया।
कंटास एयरलाइंस की ये फ्लाइट सिडनी से पर्थ की ओर जा रही थी। (Photo source-Pixabay)

ऑस्ट्रेलिया में एक बोइंग प्लेन यात्रियों के वजन की वजह से इतना भारी हो गया कि उड़ान ही नहीं भर सका। सैकड़ों टन वजन वाले प्लेन का महज कुछ किलो वाले पैसेंजरों की वजह से उड़ान ना भर पाना आपको अविश्वसनीय घटना लग सकती है। लेकिन ये पूरा वाकया सच है। सोमवार (13 जून) को ये घटना ऑस्ट्रेलिया में सिडनी से पर्थ जाने वाली फ्लाइट में हुई। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के मुताबिक क़ंटास की फ्लाइट बोइंग 737-800 फ्लाइट सिडनी से पर्थ जाने के लिए तैयार थी। तभी एक-एक घर 40 पसैंजरों का नाम बुलाया गया और आखिर में इन्हें प्लेन से नीचे उतरने को कह दिया गया, इसके पीछे एयरलाइंस द्वारा जो तर्क दिया गया वो ये था कि प्लेन काफी भारी हो गया है और उड़ान नहीं भर पा रही है।

कंटास एयरलाइंस के प्रवक्ता ने डेली मेल ऑस्ट्रेलिया को बताया कि विमान के ईंधन पंप ने प्लेन की लोडिंग से जुड़ी कुछ समस्या दिखाई थी इस वजह से 40 यात्रियों को नीचे उतरने के लिए कहा गया। फ्लाइट इंजीनियरों का कहना है कि इस हालत में उड़ान भरने की कोशिश भी खतरनाक साबित हो सकती थी। हालांकि एयरलाइंस ने तुरंत ही बाकी यात्रियों के लिए दूसरी फ्लाइट में जगह दे दी और यात्रियों को तुरंत उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचा दिया गया। प्लेन में सवार एक महिला पैसेंजर ने कहा कि जब विमान ने उड़ान भरी तो उसके आस पास की कई सीटें खाली रह गईं थी । विमान ने यात्रियों को हुई इस परेशानी के लिए माफी तो मांगी ही साथ ही सहयोग करने के लिए धन्यवाद भी दिया।

बता दें कि इससे पहले अमेरिका के यूनाइटेड एयरलाइंस में पैसेंजर से बदसलूकी और बाद में उसे यात्रा ना करने देने का मामला काफी सुर्खियों में रहा था। इस विवाद में ओवरबुकिंग की वजह से एक पैसेंजर को यात्रा नहीं करने दिया गया था और उसे जबरन फ्लाइट से नीचे उतार दिया गया था। हालांकि कंटास एयरलाइंस के इस वाकये में यात्रियों ने कोई शिकायत नहीं की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.