ताज़ा खबर
 

इमरान खान बोले- शादी से पहले तक नहीं देखा था दुल्‍हन का चेहरा

जेमिमा के साथ इमरान की शादी 9 साल चली थी और साल 2004 में दोनों के बीच तलाक हो गया था। इसके बाद इमरान ने साल 2015 में बीबीसी की मौसम प्रजेन्टर रेहम खान से शादी की, लेकिन 10 महीनें में ही यह शादी टूट गई।

Pakistan Election 2018 Result: पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ के चीफ और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान। (image source-Facebook)

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनावों में पीएम पद के सबसे सशक्त दावेदार, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान का कहना है कि उन्होंने अपनी वर्तमान पत्नी का चेहरा शादी से पहले तक नहीं देखा था और उन्होंने शादी के लिए प्रपोज भी बिना चेहरा देखे ही किया था। इसका कारण बताते हुए इमरान खान ने कहा कि क्योंकि उनकी पत्नी हमेशा बुर्के में रहती हैं, जिस वजह से वह शादी से पहले उनका चेहरा नहीं देख पाए थे। डेली मेल ऑनलाइन से बात करते हुए इमरान खान ने ये बात बतायी है। उल्लेखनीय है कि इमरान खान की वर्तमान पत्नी का नाम बुशरा मानेका है और वह एक स्कॉलर और सूफी धर्मगुरु हैं।

इमरान खान ने बुशरा से तीसरी शादी की है। बुशरा से पहले इमरान ब्रिटिश जेमिमा गोल्डस्मिथ और एक अन्य ब्रिटिश रेहम खान से शादी कर चुके हैं। जेमिमा के साथ इमरान की शादी 9 साल चली थी और साल 2004 में दोनों के बीच तलाक हो गया था। इसके बाद इमरान ने साल 2015 में बीबीसी की मौसम प्रजेन्टर रेहम खान से शादी की, लेकिन 10 महीनें में ही यह शादी टूट गई। हाल ही में रेहम खान की एक किताब भी प्रकाशित हुई है, जिसमें रेहम खान ने इमरान खान के निजी जीवन से संबंधित कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। रेहम ने अपनी किताब में इमरान खान पर आरोप लगाया है कि वह समलैंगिक हैं और ड्रग्स लेते हैं। इसके साथ ही रेहम ने एक भारतीय महिला से इमरान के 5 बच्चे भी होने का दावा किया है। रेहम के खुलासे पर विवाद के बाद इमरान खान ने कहा भी था कि ‘मैंने अपनी जिन्दगी में कई गलतियां की हैं, लेकिन दूसरी शादी उनकी जिन्दगी की सबसे बड़ी गलती है।’

इमरान की वर्तमान पत्नी 39 वर्षीय बुशरा मानेका 5 बच्चों की मां हैं और उनकी भी इमरान के साथ यह दूसरी शादी है। इमरान के अनुसार, बुशरा की बहन पीटीआई की सदस्य हैं और उन्हीं के जरिए इमरान और बुशरा की मुलाकात हुई थी। इमरान के अनुसार, उनका झुकाव सूफी विचारधारा की ओर हुआ, जिसके बाद वह सूफी विचारधारा से जुड़े सवालों के जवाब ढूंढने के लिए बुशरा से मिलते थे। इसी दौरान दोनों के बीच जान-पहचान हो गई और उन्होंने बुशरा को बिना देखे प्रपोज कर दिया था। प्रपोज करने के कई दिनों बाद बुशरा ने इसका जवाब दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App