ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    Cong+ 86
    BJP+ 69
    RLM+ 0
    OTH+ 13
  • मध्य प्रदेश

    Cong+ 71
    BJP+ 60
    BSP+ 5
    OTH+ 2
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 40
    BJP+ 28
    JCC+ 4
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 83
    TDP-Cong+ 23
    BJP+ 5
    OTH+ 5
  • मिजोरम

    MNF+ 14
    Cong+ 6
    BJP+ 1
    OTH+ 1

* Total Tally Reflects Leads + Wins

श्रीलंका के तमिल समुदाय को खुद से जोड़ने के लिए पीएम मोदी ने लिया चाय का सहारा, कहा- दोनों देशों में एक चीज समान है, वो है ‘चाय’

भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा उनका मुख्य जुड़ाव चाय से रहा है।

दो साल में मोदी की श्रीलंका के लिए यह दूसरी यात्रा है। (Photo AP)

श्रीलंका दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में आज (12 मई, 2017) श्रीलंका में रह रहे तमिल समुदाय के साथ संबंध और मजबूत करनी की बात कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि यहां रह रहे लोगों और भारतीयों में एक चीज समान है और वो है ‘चाय’। भाषण के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आपके और हमारे बीच कुछ चीजें समान है और ये बात आप भी जानते हो। उन्होंने कहा कि आपका और मेरा मुख्य जुड़ाव चाय से है। ये बात पीएम मोदी ने श्रीलंका में रह रहे भारतीय मूल के तमिल समुदाय को संबोधित करते हुए कहीं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने साल 2014 में लोकसभा चुनाव में प्रचार की मुहिम ‘चाय पे चर्चा’ का भी जिक्र किया। बता दें कि मोदी के इस प्रोग्राम से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणि शंकर अय्यर खासे प्रभावित रहे।

तमिल समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ‘चाय पे चर्चा’ सिर्फ एक मुहावरा नहीं है। ये किसी शख्स की गहरी महमान नवाजी का प्रतीक भी है। इस दौरान पीएम मोदी ने श्रीलंका में मेहनत कर रहे भारतीय तमिल समुदाय का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि दुनियाभर के लोग सिलिकोन की चाय से काफी फेमिलियर हैं। आज श्रीलंका दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा चाय का निर्यातक है जोकि सिर्फ तमिल समाज की कड़ी मेहनत की वजह से संभव हो सका है। इस दौरान मोदी ने भारतीय तमिल सुपर स्टार एमजीआर और क्रिकेट के महान लेग स्पिन मास्टर मुथैया मुरलीधरन का भी जिक्र किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App