ताज़ा खबर
 

अमेरिका और नॉर्थ कोरिया ने रचा इतिहास, ट्रंप से मिलकर बोले तानाशाह किम जोंग- दुनिया बड़ा बदलाव देखेगी

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने मंगलवार को मुलाकात के दौरान गर्मजोशी से हाथ मिलाए और दोनों देशों के बीच नए शानदार संबंधों के आगाज का स्वागत किया।

Author सिंगापुर | June 12, 2018 12:14 pm
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने मंगलवार को मुलाकात के दौरान गर्मजोशी से हाथ मिलाए और दोनों देशों के बीच नए शानदार संबंधों के आगाज का स्वागत किया।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने मंगलवार को मुलाकात के दौरान गर्मजोशी से हाथ मिलाए और दोनों देशों के बीच नए शानदार संबंधों के आगाज का स्वागत किया। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, ट्रंप और किम जोंग उन सेंटोसा द्वीप के कैपेला होटल में सिंगापुर के समयानुसार सुबह नौ बजे मिले और बड़ी ही गर्मजोशी से एक-दूसरे से हाथ मिलाया। दोनों नेताओं ने लगभग 12 सेकंड तक हाथ मिलाए। फोटोग्राफर्स के सामने ट्रंप ने अपना हाथ किम जोंग के कंधे पर रख लिया। इसके बाद दोनों नेता उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्र को सुलझाने के प्रयास के तहत मुलाकात के लिए भीतर चले गए। इस दौरान ट्रंप ने कहा, “मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। यह बेहतरीन चर्चा होगी और मुझे लगता है कि यह सफल रहेगी। यह बहुत सफल होगी और हमारे बीच संबंध बेहतरीन होंगे, इसमें कोई संदेह नहीं है।

किम जोंग ने कोरियाई भाषा में कहा कि पुरानी धारणाएं हमारे मार्ग में बाधा बनी लेकिन हमने इन बाधाओं को पार कर लिया है और आज हम यहां मौजूद हैं।”वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, दोनों नेताओं के सिंगापुर से रवाना होने से पहले इस बैठक का संयुक्त बयान जारी किया जाएगा। दोनों नेताओं के बीच यह बैठक लगभग 45 मिनट तक चली। इस दौरान दोनों पक्षों के वरिष्ठ सहयोगी भी थे। अमेरिका की ओर से ट्रंप के प्रतिनिधिमंडल में विदेश मंत्री माइक पोम्पियो, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन, व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ जॉन केली और फिलीपींस में अमेरिका के राजदूत सुंग किम भी हैं।

वहीं, उत्तर कोरियाई प्रतिनिधिमंडल में विदेश मंत्री री योंग हो, उपविदेश मंत्री चो सोन हुई और सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया की केंद्रीय समिति के उपाध्यक्ष किम योंग चोल मौजूद हैं। उत्तर कोरिया के चो और अमेरिकी राजदूत सुंग किम के बीच सोमवार को बैठक को अंतिम रूप देने को लेकर र्कायकारी बैठक हुई थी। दोनों नेता रविवार को ही सिंगापुर पहुंच गए थे और दोनों ने ही सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सियन लूंग से अलग-अलग मुलाकातें कीं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने मंगलवार को ऐतिहासिक बैठक के बाद संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए। द स्ट्रेट्स टाइम्स ने ट्रंप के हवाले से कहा, “हम बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर रहे हैं, यह समग्र दस्तावेज है और हमने साथ में बेहतरीन समय बिताया। एक बेहतरीन संबंध। संवाददाता सम्मेलन में जल्द ही इस चर्चा होगी।

ट्रंप ने कहा, “हमने विशेष बॉन्ड विकसित किया है। यह बैठक किसी के भी अनुमान से बहुत बेहतर रही। इसके जवाब में किम जोंग ने कहा, “दुनिया एक बड़ा बदलाव देगी।”
किम जोंग और ट्रंप यह ऐतिहासिक बैठक करने वाले अपने देशों के पहले नेता बन गए हैं। दोनों नेताओं ने सेंटोसा द्वीप के कैपेला होटल में मुलाकात की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App