ताज़ा खबर
 

अमेरिका की ईरान को सीधी चेतावनी, जवाबी कार्रवाई की सोची भी ना… तो एकदम नए हथियारों से हमला करेंगे

ट्रम्प ने इराक में एक शीर्ष ईरानी जनरल को निशाना बनाकर शुक्रवार को ड्रोन हमला किए जाने का बचाव करते हुए ट्वीट किया कि 52 अंक उन लोगों की संख्या को दर्शाता है, जिन्हें एक साल से अधिक समय तक तेहरान में अमेरिकी दूतावास में 1979 में बंधक बनाकर रखा गया था।

Author नई दिल्ली | January 5, 2020 1:39 PM
US President Donald Trumpअमेरिका सालाना अरबों डॉलर अफगानिस्तान में खर्च करता है और अब ट्रंप चाहते हैं कि इस खर्च को कम किया जाए या बिल्कुल खत्म कर दिया जाए।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान को चेतावनी दी कि यदि वह बगदाद में अमेरिकी हवाई हमले में शीर्ष ईरानी कमांडर के मारे जाने के बाद जवाबी कार्रवाई करता है तो अमेरिका उस पर अब तक का सबसे जोरदार हमला करेगा। ट्रम्प ने ईरान से जवाबी हमले की कार्रवाई संबंधी टिप्पणियों के बीच शनिवार (4 जनवरी, 2019) को आधी रात के बाद ट्वीट किया, ‘‘उन्होंने (ईरान ने) हम पर हमला किया और हमने जवाबी हमला किया। यदि वे फिर हमला करते हैं, तो हम उन पर अब तक का सबसे जोरदार हमला करेंगे। मैं उन्हें कोई हमला नहीं करने की सलाह देता हूं।’’

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘अमेरिका ने सैन्य उपकरणों पर दो हजार अरब डॉलर अभी खर्च किए हैं। हम दुनिया में सबसे बड़े और सर्वश्रेष्ठ हैं। यदि ईरान अमेरिकी सैन्य अड्डे या किसी अमेरिकी पर हमला करता है तो हम अपने कुछ एकदम नए खूबसूरत उपकरण… बिना किसी हिचकिचाहट के उनके खिलाफ इस्तेमाल करेंगे।’’ ट्रम्प ने 10 घंटे से भी कम समय के अंतराल में ईरान को दूसरी बार यह चेतावनी दी। इससे पहले उन्होंने शनिवार को चेतावनी दी थी कि यदि ईरान अमेरिकी जवानों या सम्पत्ति पर हमला करता है तो अमेरिका 52 ईरानी स्थलों को निशाना बनाएगा और उन पर ‘‘बहुत तेजी से और जोरदार हमला’’ करेगा।

ट्रम्प ने इराक में एक शीर्ष ईरानी जनरल को निशाना बनाकर शुक्रवार को ड्रोन हमला किए जाने का बचाव करते हुए ट्वीट किया कि 52 अंक उन लोगों की संख्या को दर्शाता है, जिन्हें एक साल से अधिक समय तक तेहरान में अमेरिकी दूतावास में 1979 में बंधक बनाकर रखा गया था। ट्रम्प ने ट्वीट किया कि इनमें से कुछ स्थल ‘‘बहुत उच्च स्तर के और ईरान एवं ईरानी संस्कृति के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन स्थलों और ईरान पर बहुत तेजी से एवं जोरदार तरीके से हमला किया जाएगा। अमेरिका को अब और खतरा नहीं चाहिए।’’

अमेरिका ने शुक्रवार को इराक में ड्रोन हमला किया था, जिसमें शीर्ष ईरानी कमांडर कासिम सुलेमानी मारे गए थे। इस हमले के बाद अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बहुत बढ़ गया है। सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि संभावित जवाबी कार्रवाई का पहला संकेत देते हुए बगदाद में अमेरिकी दूतावास के निकट के एक इलाके में मोर्टार के दो गोले दागे गए। उन्होंने बताया कि इसी दौरान अमेरिकी बलों की तैनाती वाले अल-बलाद वायुसेना अड्डे पर दो रॉकेट गिराए गए। इराकी सेना ने अल बलाद और बगदाद में मिसाइल हमलों की पुष्टि की है और कहा है कि इनमें कोई हताहत नहीं हुआ। अमेरिका ने भी कहा है कि गठबंधन का कोई जवान हताहत नहीं हुआ।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 …तो ईरान के 52 अहम ठिकानों पर करेंगे हमला-डोनाल्ड ट्रम्प की धमकी; बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास रॉकेट अटैक
2 बग़दाद में अमेरिकी दूतावास के पास रॉकेट से हमला, सुलेमानी की मौत के बाद और बढ़ा तनाव
3 ‘अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल ना करे अमेरिका’, चीन ने कहा- इससे क्षेत्र में बढ़ेगा तनाव और अशांति
ये पढ़ा क्या ?
X