ताज़ा खबर
 

बलूचिस्तान विधानसभा के पास विस्फोट, 6 मरे

पाकिस्तान के क्वेटा शहर में बलूचिस्तान विधानसभा भवन के पास मंगलवार को हुए विस्फोट में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई, जिसमें चार पुलिसकर्मी शामिल थे।

Author इस्लामाबाद | January 9, 2018 10:34 PM
(File PHOTO)

पाकिस्तान के क्वेटा शहर में बलूचिस्तान विधानसभा भवन के पास मंगलवार को हुए विस्फोट में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई, जिसमें चार पुलिसकर्मी शामिल थे। जियो न्यूज के अनुसार, विस्फोट शहर के उच्च सुरक्षा वाले रेड जोन में जरघून रोड पर खड़े एक पुलिस ट्रक के पास हुआ। यह स्थान विधानसभा भवन से 300 मीटर की दूरी पर है।
अस्पताल सूत्रों ने मृतकों की संख्या की पुष्टि की है और कहा कि विस्फोट में 17 अन्य घायल हुए हैं। पुलिस ने कहा विस्फोट की वास्तविक प्रकृति के बारे में फिलहाल पता नहीं चल पाया है। प्रारंभिक रपटों के अनुसार, मोटरसाइकिल सवार एक आत्मघाती हमलावर बलूचिस्तान विधानसभा भवन को निशाना बनाने की कोशिश में था, लेकिन उसने अपने विस्फोटक में उच्च सुरक्षा वाले रेड जोन इलाके में विस्फोट कर दिया।

विस्फोट स्थल पर बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद थे, क्योंकि बलूचिस्तान विधानसभा का एक सत्र बस संपन्न ही हुआ है। इस इलाके में कई महत्वपूर्ण सरकारी इमारतें भी हैं।
विस्फोट में एक बस भी क्षतिग्रस्त हो गई। सुरक्षा अधिकारियों ने कहा कि बम निष्क्रिय करने वाली एक टीम घटनास्थल पर मौजूद है, जो आवश्यक कार्रवाई में जुटी हुई है।

बता दें कि बीते दिन पहले ही खबर आई थी कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकी समूह पाकिस्तान के समक्ष एक बड़ा खतरा बन रहा है और बेहद खतरनाक ढंग से देश में अपनी मौजूदगी बढ़ा रहा है। एक थिंक टैंक की रिपोर्ट में यह कहा गया है। पाकिस्तान इस बात से इनकार करता आया है कि देश में आईएसआईएस की संगठित मौजूदगी है। हालांकि, आतंकी समूह का दावा है कि हाल के वर्षों में बलूचिस्तान में हुए कई हमलों को उसी ने अंजाम दिया है। ‘डॉन’ न्यूज की खबर के मुताबिक पाकिस्तान इंस्टीट्यूट फॉर पीस स्टडीज (पीआईपीएस) की सुरक्षा रिपोर्ट में कहा गया कि आईएस, जो विशेष तौर पर उत्तरी सिंध और बलूचिस्तान में सक्रिय है, वह पिछले वर्ष चीन के दो नागरिकों के अपहरण तथा हत्या की घटना में भी शामिल था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App