ताज़ा खबर
 

ईसाइयों को पोप ने दी सलाह: ‘खरगोशों की तरह’ बच्चे पैदा न करें

बच्चों को निशाना बनाकर आए दिन नेताएं एक-के-बाद-एक विवादित बयान देते नज़र आ रहे हैं। बीजेपी के साक्षी महाराज के गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान से उठा विवाद थमा भी नहीं था कि उन्होंने हिंदू औरतों को चार बच्चे पैदा करने की सलाह देकर फिर विवाद खड़ा कर दिया। साक्षी महाराज अकेले नेता नहीं […]

Author January 21, 2015 9:11 AM
‘खरगोशों की तरह’ बच्चे पैदा न करें ईसाई: पोप (फोटो: एपी)

बच्चों को निशाना बनाकर आए दिन नेताएं एक-के-बाद-एक विवादित बयान देते नज़र आ रहे हैं। बीजेपी के साक्षी महाराज के गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान से उठा विवाद थमा भी नहीं था कि उन्होंने हिंदू औरतों को चार बच्चे पैदा करने की सलाह देकर फिर विवाद खड़ा कर दिया। साक्षी महाराज अकेले नेता नहीं हैं जो ऐसे अनर्गल बयान देते रहे हैं।

साध्वी निरंजन ज्योति, गिरिराज सिंह, प्रवीण तोगड़िया, मोहन भागवत ऐसे कई नाम हैं जो लगातार विवादित बयान देकर न केवल लोगों को उकसाने का काम करते रहे हैं बल्कि हिंदू-मसुलिम एकता को भी खंडित कर रहे हैं।

वहीं साक्षी महाराज के बेतुके बयान पर कृत्रिम गर्भनिरोध पर चर्च के रुख की हिमायत करते हुए पोप फ्रांसिस ने कहा है कि अच्छे कैथोलिक ईसाइयों को खरगोशों की तरह बच्चों पैदा करने की जरूरत नहीं है।

उन्होंने विश्व के 1.2 अरब रोमन कैथोलिक से अपील की कि वे बच्चों की परवरिश जिम्मेदार ढंग से करें। फिलीपीन से अपनी वापसी की उड़ान में बात करते हुए पोप ने कहा कि एक बार उन्होंने आठवीं बार गर्भधान की सात बच्चों की एक मां से पूछा कि क्या वह सात बच्चों को अनाथ छोड़ना चाहती है। उसने कहा, मुझे ईश्वर पर यकीन है। पोप ने कहा, लेकिन ईश्वर ने हमें जिम्मेदार होने के साधन दिए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग समझते हैं कि अच्छा कैथोलिक होने के लिए खरगोश की तरह होना जरूरी है।

फ्रांसिस ने कहा कि नये जीवन का सृजन विवाह की शपथ का एक हिस्सा है। उन्होंने 1968 में पॉल षष्ठम द्वारा कत्रिम गर्भनिरोधक को अवैध करार दिए जाने का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि चर्च के उपदेशों के पालन का मतलब यह नहीं है कि ईसाई एक के बाद एक बच्चा पैदा करते रहें। उनकी टिप्पणी कैथलिक चर्च के एशियाई गढ़ फिलीपीन की यात्रा के अंत में आई जिसने पिछले साल सरकारी गर्भनिरोध पर रोक लगाने की चर्च की 15 साल लंबी लड़ाई के बाद पिछले साल एक परिवार नियोजन कानून पारित किया था। कानून सरकार को हजारों गरीब फिलीपीनियों को मुफ्त गर्भनिरोधक वितरित करने की अनुमति देता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App