ताज़ा खबर
 

पोप ने मुस्लिम शरणार्थियों के पांव पखारे, कहा: ‘हम भाई हैं’

फ्रांसिस ने मार-काट की निंदा करते हुए उसे ‘युद्ध की मुद्रा’ ठहराया और कहा कि हथियार उद्योग द्वारा लोगों को खून का प्यासा बनाया जा रहा है।

Author कासेलनोवो डि पोर्टो | March 25, 2016 10:14 AM
एक शरणार्थी के पांव धोते हुए पोप फ्रांसिस। (फोटो-रॉयटर्स)

पोप फ्रांसिस ने आज मुस्लिम, रूढ़िवादी, हिंदू और कैथोलिक शरणार्थियों के पांव पखारे और चूमे। उन्होंने सभी को एक ही ईश्वर की संतान घोषित किया। उन्होंने भाईचारे की यह मिसाल यह ऐसे समय में दी है जब ब्रसेल्स हमलों के बाद मुस्लिम विरोधी और शरणार्थी विरोधी भावनाएं प्रबल हो रही हैं।

फ्रांसिस ने मार-काट की निंदा करते हुए उसे ‘युद्ध की मुद्रा’ ठहराया और कहा कि हथियार उद्योग द्वारा लोगों को खून का प्यासा बनाया जा रहा है। उन्होंने यह बात ईस्टर वीक मास के दौरान रोम के बाहर कासेलनोवो डि पोर्टो में एक शरण स्थल में कही। उन्होंने कहा कि हम सभी की विभिन्न संस्कृतियां और धर्म है लेकिन हम सभी भाई हैं और हम शांति से रहना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App