ताज़ा खबर
 

वीडियोः लंदन में ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर फायरिंग की खबर से पुलिस का इंकार

लंदन के ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर हुए हमले की खबर को पुलिस ने खारिज कर दिया है।
(PHOTO-AP)

लंदन के ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर हुए हमले की खबर को पुलिस ने खारिज कर दिया है। बता दें कि न्यूज एजेंसी एपी के मुताबिक शुक्रवार को लंदन के ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट पर फायरिंग की खबर आई थी। इसके बाद ऐसी भी खबरें आई कि गोलीबारी के बाद ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन और बोन्ड स्ट्रीट को खाली कराकर बंद कर दिया गया था। पुलिस के मुताबिक लंदन के स्थानीय समय के अनुसार करीब 4.45 बजे ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट पर शॉट फायर हुआ था, जिसकी आवाज सुनकर वहां मौजूद लोग घबरा गए और भगदड़ मच गई। बता दें कि इस समय स्ट्रीट बोन्ड पर लंदन के लोग शॉपिंग करने निकलते हैं। इस दौरान जैसे ही लोगों ने ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर शॉट फायर की आवाज सुनी तो सभी घबरा गए और इधर-उधर भागने लगे। लेकिन पुलिस ने जब तहकीकात की तो फायरिंग जैसा कोई सबूत नहीं मिला। लोगों में मची दहशत के चलते स्ट्रीट पर पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं।

पुलिस का कहना है कि ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर किसी तरह की फायरिंग नहीं हुई। मीडिया में आई खबरों के बाद मौके पर घटना का जायजा लेने पहुंचे स्कॉर्टलैंड यार्ड के पुलिस अधिकारी ने जांच के आदेश दिए। लेकिन ब्रिटिश ट्रांसपोर्ट पुलिस को फायरिंग का कोई सुराग हाथ नहीं लगा।

गौरतलब है कि इससे पहले सितम्बर में लंदन मेट्रो में बड़े धमाके की खबर आई थी। यह धमाका पार्सन्स ग्रीन अंडरग्राउंड स्टेशन पर हुआ था। धमाके के बाद स्टेशन पर भगदड़ मच गई थी। कई लोगों के चेहरे भी झुलस गए हैं। कहा जा रहा है कि सफेद रंग के कंटेनर में विस्फोटक था जिसकी वजह से धमाका हुआ था। हमले में 18 लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। इस हमले में ज्यादा लोग भगदड़ की वजह से जख्मी हुए थे। चश्मदीदों के मुताबिक, लोग चिल्ला-चिल्लाकर एक दूसरे के ऊपर चढ़-चढ़कर भाग रहे थे। फिलहाल जांच चल रही है कि उस कंटेनर में कौन का कैमिकल था। पुलिस की तरफ से एडवाइजरी भी जारी की गई है। बाकी ट्रेनों के रूट को भी बदल दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.