ताज़ा खबर
 

पुलिसकर्मियों ने उतरवाए चायवाले के कपड़े, लॉकअप के भीतर रेप करने की कोशिश

पीड़ित ने अपनी शिकायत में कहा कि, मामला 1 फरवरी का है। वह बक्शी खाना में अपने चाय के कप उठाने के लिए गया था। इस दौरान वहां काज़ी हैदर और रहमान नाम के पुलिस वालों ने उसे लॉकअप में बंद कर दिया।

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो सोर्स : Reuters)

किसी थाने में एक चाय वाले का आना जाना आम बात है। लेकिन पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में यह किसी खतरे से कम नहीं। बीते दिन सामने आए एक मामले के बाद तो यह बात सही ही लगती है। यहां एक चाय वाले नाबालिग लड़के से रेप की कोशिश में दो पुलिस वालों पर गाज गिरा दी गई है। पीड़ित लड़के की उम्र 17 साल है। लड़के ने अपनी शिकायत एडिशनल डिस्ट्रिक्ट और सेसन जज से की।

पीड़ित ने अपनी शिकायत में कहा कि, मामला 1 फरवरी का है। वह बक्शी खाना में अपने चाय के कप उठाने के लिए गया था। इस दौरान वहां काज़ी हैदर और रहमान नाम के पुलिस वालों ने उसे लॉकअप में बंद कर दिया। जहां उसके कपड़े भी उतार दिए। हालांकि उसने बताया कि इस दौरान वह भागने की कोशिशें की। लेकिन पुलिस वालों ने उसे धमकाया कि अगर कहीं भी किसी से इस घटना के बारे में बताया तो अंजाम अच्छा नहीं होगा। पीड़ित लड़की की शिकायत पर जज ने पुलिस वालों पर रेप करने की कोशिश का मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

बता दें कि, बीते महीने भारत में ही पाकिस्तानी उच्चायोग के एक कर्मचारी पर छेड़खानी के आरोप लगे थे। महिला ने आरोप लगाया था कि बाजार में उसने गलत तरीके से छुआ था। शिकायत के बाद आरोपी कर्मचारी को दिल्ली के सरोजनी नगर थाने ले जाया गया था। हालांकि, आरोपी का कहना था कि बाजार में भीड़ थी, जिसके चलते उसका हाथ लग गया। बाद बताया गया था कि आरोपी ने महिला से माफी मांगी ली थी। जिससे मामला आगे नहीं बढ़ा। जबकि इस बीच इस्लामाबाद में, पाकिस्तानी मीडिया ने विदेशी कार्यालय के एक अज्ञात अधिकारी के हवाले से दावा किया कि भारतीय अधिकारियों ने कर्मचारी को गिरफ्तार किया था और पाकिस्तान द्वारा यह मामला उठाए जाने के बाद उसे रिहा किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App