ताज़ा खबर
 
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 40
    BJP+ 28
    JCC+ 4
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 83
    TDP-Cong+ 23
    BJP+ 5
    OTH+ 5
  • मध्य प्रदेश

    Cong+ 71
    BJP+ 60
    BSP+ 5
    OTH+ 2
  • मिजोरम

    MNF+ 14
    Cong+ 6
    BJP+ 1
    OTH+ 1
  • राजस्थान

    Cong+ 86
    BJP+ 69
    RLM+ 0
    OTH+ 13

* Total Tally Reflects Leads + Wins

PNB घोटाला: ललित मोदी, विजय माल्या के बाद नीरव मोदी भी चाहता है लंदन में बसना

जांच एजेंसियों को मिली जानकारी के मुताबिक मेहुल चोकसी न्यूयॉरक् के ब्रोक्स इलाके में नीना सेठ और गीता चोकसी के घर रहता है। वहीं ईडी सूत्रों के मुताबिक, नीरव मोदी सिंगापुर के पासपोर्ट पर लंदन में हैं, जबकि उनका भाई निशाल मोदी बेल्जियम के पासपोर्ट पर एंटवर्प में हैं।

भारत में विभिन्न आरोपों का सामना कर रहे विजय माल्या और ललित मोदी लंदन में जा बसे हैं।

भारत के सरकारी बैंकों का करोड़ों रुपये लेकर फरार हुआ नीरव मोदी लंदन को अपना स्थायी ठिकाना बनाने की तलाश में है। नीरव मोदी को उसके वकील ने सलाह दी है कि वे ललित मोदी और शराब कारोबारी विजय माल्या की तर्ज पर लंदन में शरण लें। इसके लिए वह ग्रेट ब्रिटेन की सरकार को पत्र लिखें। नीरव मोदी की लंदन में चल-अचल संपत्ति भी है। बता दें कि मनी लॉन्ड्रिंग केस के आरोपी ललित मोदी और बैंक का पैसा लेकर फरार हुआ विजय माल्या भी इस वक्त लंदन में है और वहीं से भारत सरकार के खिलाफ अपना केस लड़ रहा है। वहीं नीरव मोदी का मामला और पीएनबी घोटाले का सह आरोपी मेहुल चोकसी ने अमेरिका में शरण मांगी है। जांच एजेंसियों को मिली जानकारी के मुताबिक मेहुल चोकसी न्यूयॉरक् के ब्रोक्स इलाके में नीना सेठ और गीता चोकसी के घर रहता है। वहीं ईडी सूत्रों के मुताबिक, नीरव मोदी सिंगापुर के पासपोर्ट पर लंदन में हैं, जबकि उनका भाई निशाल मोदी बेल्जियम के पासपोर्ट पर एंटवर्प में हैं।

नीरव की बहन पूर्वी मेहता बेल्जियम पासपोर्ट पर फिलहाल हांगकांग में हो सकती हैं। सूत्र ने कहा कि पूर्वी के पति मयंक मेहता के पास ब्रिटिश पासपोर्ट है और वह हांगकांग व न्यूयॉर्क के बीच घूम रहा है। ईडी ने नीरव मोदी के पिता दीपक मोदी, बहन पूर्वी मेहता और उसके पति मयंक मेहता को समन जारी किया था। नाम न छापने की शर्त पर ईडी के एक एक अधिकारी ने बताया, “उन्हें ईमेल के जरिए समन भेजे गए हैं।” बता दें कि 13,000 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले में इसी साल जनवरी में एफआईआर दर्ज हुई थी। इसके बाद नीरव मोदी और मेहुल चोकसी भारत छोड़कर फरार हो गया था। नीरव मोदी ने अपने सहयोगियों और कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से साल 2011-17 के बीच लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग जारी करवाए और सरकारी बैंकों को करोडो़ं का चूना लगाया। नीरव मोदी का घोटाला उजागर होने के बाद कई केन्द्रीय एजेंसियां भारत में उनकी संपत्तियों को जब्त कर रही है। जांच एजेंसियों ने दोनों को समन भी भेजा है। बावजूद इसके वे जांच के लिए उपस्थित नहीं हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App