ताज़ा खबर
 

पुतिन ने मोदी को भेंट की गांधी की डायरी के पन्ने और भारतीय तलवार, अकेले में हुई गुफ्तगू

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन ने सालाना भारत-रूस शिखर सम्मेलन के दौरान बैठक की जिसमें पहले से ही गहरे संबंधों को और मजबूती प्रदान करने पर जोर दिया गया..

Author मास्को | December 25, 2015 02:04 am
मास्कों में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन। (पीटीआई फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन ने सालाना भारत-रूस शिखर सम्मेलन के दौरान बैठक की जिसमें पहले से ही गहरे संबंधों को और मजबूती प्रदान करने पर जोर दिया गया। इसके साथ ही पुतिन ने मोदी को भेंट महात्मा गांधी की डायरी के पन्ने और भारतीय तलवार भेंट की। दो दिवसीय यात्रा पर यहां पहुंचे मोदी ने 16वें भारत-रूस शिखर सम्मेलन के दौरान क्रेमलिन में रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ अकेले में बातचीत की। इस बैठक के बाद शिष्टमंडल स्तर की वार्ता हुई।

क्रेमलिन में दोनों नेताओं की बैठक के चित्रों के साथ विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट किया, ‘‘क्रेमलिन से, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने 16वें वार्षिक शिखर सम्मेलन की शुरुआत सीधी बातचीत से की।’’

पुतिन ने मोदी को भेंट किए महात्मा गांधी की डायरी के पन्ने और भारतीय तलवार

इससे पहले रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को महात्मा गांधी की डायरी का एक हस्तलिखित पन्ना और बंगाल की एक 18वीं सदी की तलवार उपहार स्वरूप प्रदान की। बीती रात क्रेमलिन में दोनों नेताओं के बीच निजी मुलाकात के दौरान रूसी राष्ट्रपति ने मोदी को यह उपहार प्रदान किया।

दो दिवसीय रूस यात्रा पर यहां आए मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रपति पुतिन ने मुझे गांधीजी की डायरी का एक पन्ना भेंट किया जिस पर बापू की हाथ से लिखी हुई टिप्पणियां हैं। राष्ट्रपति पुतिन ने एक 18वीं सदी की बंगाल की तलवार भी उपहार में दी है जिस पर चांदी के तारों की नक्काशी की गयी है। मैं उपहार के लिए उनका शुक्रिया अदा करता हूं।’’18वीं सदी की तलवार नजाफी राजवंश से ताल्लुक रखती है।

पुतिन ने क्रेमलिन में मोदी से निजी बातचीत की और उसके बाद रात्रिभोज दिया गया जिसमें दोनों नेताओं ने दोनों देशों के साझा हितों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच गुरुवार को क्रेमलिन में 16वीं भारत रूस सालाना शिखर वार्ता हुई। जिसके बाद दोनों नेताओं द्वारा रक्षा, परमाणु ऊर्जा, हाइड्रोकार्बन और व्यापार समेत महत्वपूर्ण क्षेत्रों में आपसी सहयोग को विस्तार देने के लिए कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App