ताज़ा खबर
 

मोदी का भूटान में शानदार स्वागत, रिसीव करने खुद पहुंचे पीएम, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

यह प्रधानमंत्री की भूटान की दूसरी यात्रा है और दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद से पहली यात्रा है। भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेंरिंग ने हवाई अड्डे पर मोदी का स्वागत किया। यहां आगमन पर उन्हें सलामी गारद दिया गया।

Author नई दिल्ली | Updated: August 17, 2019 12:37 PM
PM Modi in Bhutan, PM Modi Bhutan trip, Narendra Modi in Bhutan, Modi in Bhutan, PM Modi Bhutan visit, bilateral ties Bhutan, India Bhutan relations,मोदी दो दिवसीय यात्रा पर भूटान पहुंचे, प्रधानमंत्री लोटे शेंरिंग ने किया स्वागत। (twitter/NarendraModi)

PM Narendra Modi, Bhutan Visit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर शनिवार को भूटान पहुंचे। वह द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने के लिए भूटान के नेताओं से बातचीत करेंगे। यह प्रधानमंत्री की भूटान की दूसरी यात्रा है और दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद से पहली यात्रा है। भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेंरिंग ने हवाई अड्डे पर मोदी का स्वागत किया। यहां आगमन पर उन्हें सलामी गारद दिया गया।

नयी दिल्ली में शुक्रवार को रवाना होने से पहले एक बयान में प्रधानमंत्री ने कहा था कि उनकी सरकार के मौजूदा कार्यकाल की शुरुआत में यह यात्रा दिखाती है कि भारत ‘‘अपने विश्वसनीय मित्र एवं पड़ोसी’’ भूटान के साथ संबंधों को कितना महत्व देता है। मोदी ने भरोसा जताया था कि उनकी भूटान यात्रा ‘‘मजबूत संबंधों को बढ़ावा देगी और हमारी महत्वपूर्ण दोस्ती को प्रोत्साहित करेगी तथा दोनों देशों के लोगों की प्रगति एवं समृद्ध भविष्य को और मजबूत करेगी।’’

यात्रा के दौरान मोदी द्विपक्षीय संबंधों के सभी पहलुओं पर भूटान नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक और अपने भूटानी समकक्ष से बातचीत करेंगे। प्रधानमंत्री प्रतिष्ठित रॉयल यूनिर्विसटी ऑफ भूटान में युवा छात्रों को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं द्विपक्षीय संबंधों के तमाम पहलुओं पर भूटान नरेश, पूर्व नरेश और वहां के प्रधानमंत्री के साथ सार्थक बातचीत को लेकर आशान्वित हूं। साथ ही भूटान के रॉयल विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित करने को लेकर भी उत्सुक हूं। मुझे विश्वास है कि इस यात्रा से भूटान के साथ हमारी मित्रता और मजबूत होगी, जिससे दोनों देशों के बीच समृद्धि और प्रगति का मार्ग प्रशस्त होगा। भारत की ‘पड़ोसी पहले’ की नीति रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 VIDEO: पाकिस्तान ही नहीं पाक पत्रकारों की भी बंद की बोलती, देखें भारतीय राजनयिक अकबरुद्दीन का अंदाज
2 फर्जी डिग्री के शक में पाकिस्तानी डॉक्टरों पर गिरी गाज, सऊदी अरब, कतर समेत कई देशों ने नौकरी से निकाला
3 चीन में पहली बार मंदी का खतरा, परेशानी खड़ी कर सकता है अमेरिका
ये पढ़ा क्या?
X