ताज़ा खबर
 

लंदन आतंकी हमले पर पीएम मोदी ने जताया दुख, बोले- ब्रिटेन के साथ है भारत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लंदन में हुए आतंकवादी हमले पर आज दुख जताया और उन्होंने कहा कि भारत इस मुश्किल समय में ब्रिटेन के साथ खड़ा है।

Author March 23, 2017 12:16 PM
पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘इस मुश्किल समय में, भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में ब्रिटेन के साथ खड़ा है।’(file photo)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लंदन में हुए आतंकवादी हमले पर आज दुख जताया और उन्होंने कहा कि भारत इस मुश्किल समय में ब्रिटेन के साथ खड़ा है। मोदी ने एक ट्वीट करके कहा, ‘‘लंदन में आतंकी हमले से बहुत दुखी हूं। हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं पीड़ितों तथा उनके परिवार के साथ हैं।’’मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘इस मुश्किल समय में, भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में ब्रिटेन के साथ खड़ा है।’’

ब्रिटेन में संसद परिसर के समीप एक संदिग्ध आतंकवादी ने एक पुल पर कार से लोगों को कुचल दिया और एक पुलिस अधिकारी को चाकू मार दिया। इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गयी और करीब 40 लोग घायल हो गये। इस घटना को ‘अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद’ से प्रेरित बताया जा रहा है। मृतकों में हमलावर और जिस पुलिसकर्मी को उसने चाकू मारा था, वह शामिल है। स्कॉटलैंड यार्ड अधिकारियों ने हमलावर को गोली मार दी थी।

पीएम मोदी से पहले ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने ब्रिटेन में संसद परिसर के निकट हुये आतंकवादी हमले को आज लोकतांत्रिक मूल्यों पर ‘‘घृणित और अनैतिक’’ हमला करार दिया। डाउनिंग स्ट्रीट पर एक आपातकालीन कोबरा बैठक की अध्यक्षता करने के बाद, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री ने इस बात की पुष्टि की कि हमले को एक ही व्यक्ति द्वारा अंजाम दिया गया था जिसने वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर अपने वाहन से पैदल चल रहे कई लोगों को कुचल दिया जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और तीन पुलिस अधिकारियों समेत कई घायल हो गये।

उन्होंने कहा, ‘‘इसके बाद हमलावर एक चाकू लेकर ससंद की तरफ दौड़ा और वहां उसका सामना हमारी और हमारे लोकतांत्रिक संस्थानों की सुरक्षा करने वाले पुलिस अधिकारियों से हुआ। दुर्भाग्य से, एक अधिकारी की मौत हो गई। आतंकवादी को भी मार गिराया गया।’’टेरीजा मे ने कहा कि कुछ समय से ब्रिटेन में खतरे का स्तर ‘गंभीर’ घोषित है और ‘‘इसमें बदलाव नहीं किया जाएगा।’’

लंदन में संसद के बाहर हुए घातक हमले के बाद कनाडा ने सुरक्षा कड़ी कर दी है। पार्लियामेंट हिल में सुरक्षा व्यवस्था को खासतौर पर कड़ा किया गया है। जन सुरक्षा मंत्री राल्फ गूडेल ने कल कहा कि लंदन में संसद के बाहर हुए हमले को देखते हुए ओटावा ने ऐहतियातन कदम उठाए हंै। इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गई है और 20 लोग घायल हो गए हैं।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पार्लियामेंट हिल में कार्यरत सुरक्षा कर्मियों समेत कनाडा में हर पुलिस एवं सुरक्षा सेवा ने उचित कदम उठाए हैं।’ मंत्री ने कहा, ‘‘कनाडाई इस बात को लेकर आश्वस्त हो सकते हैं कि कनाडा में उपयुक्त प्राधिकारी हर संभव कदम उठा रहे हैं।’’खतरे का स्तर हालांकि बढ़ाया नहीं गया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App