PM Modi in UAE PM Modi in Dubai PM Narendra Modi Addresses The World Government Summit call india a startup hub - PM Modi in UAE: वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में बोले पीएम मोदी- टैक्सी के किराए से भी कम थी मिशन मार्स की लागत - Jansatta
ताज़ा खबर
 

PM Modi in UAE: वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में बोले पीएम मोदी- टैक्सी के किराए से भी कम थी मिशन मार्स की लागत

PM Modi in UAE: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत को स्टार्टअप का एक बड़ा हब बताया। उन्होंने आगे कहा, 'अंतरराष्ट्रीय साझेदारी से हम न्यू इंडिया के सपने को साकार करेंगे। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत बड़े कदम उठा रहा है।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स- ट्विटर/@MEAIndia)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार की सुबह दुबई ओपेरा हाउस में अबू धाबी के पहले हिंदू मंदिर की आधारशिला रखने के बाद दोपहर में यूएई में आयोजित हो रहे वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में हिस्सा लिया। यहां उनका बहुत ही भव्य स्वागत किया गया। पीएम मोदी के स्वागत के लिए कुछ युवतियों द्वारा भरतनाट्यम नृत्य की प्रस्तुति दी गई। पीएम मोदी ने यहां मौजूद सभी लोगों को संबोधित करते हुए भारत के विकास के बारे में बात की। उन्होंने भारत के मार्स मिशन की तारीफ में कहा कि इसे बहुत ही कम लागत में पूरा किया गया। उन्होंने कहा, ‘भारत का मार्स ऑरबिट मिशन बहुत ही कम लागत में पूरा हो गया। अगर आप कोई टैक्सी लेते हैं तो उसका किराया 10 रुपए प्रति किलोमीटर होता है, लेकिन मार्स तक पहुंचने के लिए भारत के मिशन की लागत बहुत कम थी। मार्स मिशन का कॉस्ट महज 7 रुपए प्रति किलोमीटर था। टैक्सी के किराए से भी कम थी मार्स मिशन की लागत।’

उन्होंने यूएई की तारीफ करते हुए कहा कि यहां उन्हें अपनापन महसूस हो रहा है। पीएम मोदी ने तकनीक के महत्व पर बात करते हुए कहा, ‘टेक्नॉलजी का दुबई में बेहतरीन इस्तेमाल हो रहा है। यह सुनिश्चित करना जरूरी कि इसका विकास में इस्तेमाल हो, विनाश में नहीं।’ इसके अलावा उन्होंने आधार कार्ड पर बात करते हुए कहा कि भारत में आधार कार्ड दुनिया में अपनी तरह का अनोखा कदम, इससे लोगों को सरकारी योजनाओं लाभ दिया जा रहा है।

पीएम मोदी ने भारत को स्टार्टअप का एक बड़ा हब बताया। उन्होंने आगे कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय साझेदारी से हम न्यू इंडिया के सपने को साकार करेंगे। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत बड़े कदम उठा रहा है। विकास का पहलू ये भी है कि पाषाण युग से आधुनिक क्रांति के सफर में हजारों साल गुजर गए। उसके बाद संचाचर क्रांति तक सिर्फ 200 वर्षों का समय लगा। वहां से डिजिटल क्रांति तक का फासला कुछ ही सालों में तय हो गया। हमें 6 R को फॉलो करने की जरूरत है। रिड्यूस, रीयूज, रीसायकल, रिकवर, रिडिजाइन और री-मैन्युफैक्चरर, ये सब मिलकर रिजॉइस लेकर आएंगे यानी आनंद। ‘

वहीं इससे पहले पीएम मोदी ने अबू धाबी के पहले हिन्दू मंदिर बोचसानवसी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) की आधारशिला रखते हुए कहा था, ‘हम उस परंपरा में पले बढ़े हैं जहां मंदिर मानवता का माध्यम है। ये मंदिर आधुनिक तो होगा ही लेकिन विश्व को ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ का अनुभव कराने का माध्यम बनेगा।’ बता दें कि पीएम मोदी इस वक्त चार देशों के दौरे पर हैं और वह शनिवार की शाम यूएई पहुंचे। यहां उन्होंने अबूधाबी के शहजादे मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मुलाकात कर अनेक विषयों पर बातचीत की और इस दौरान दोनों देशों के बीच पांच समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। पीएम मोदी रविवार की शाम को मस्कट के लिए रवाना होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App