ताज़ा खबर
 

PM मैलकमः ऑस्ट्रेलियाई मूल्य ‘कड़वे’ लगते हैं तो देश छोड़ दो

आतंकवाद में संलिप्त लोगों को कठोर संदेश देते हुए ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल ने शुक्रवार को लोगों से कहा कि अगर ऑस्ट्रेलियाई मूल्य उन्हें ‘कड़ुवे’ लगते हैं तो वे देश छोड़ कर चले जाएं।

Author मेलबर्न | October 10, 2015 8:37 AM

आतंकवाद में संलिप्त लोगों को कठोर संदेश देते हुए ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल ने शुक्रवार को लोगों से कहा कि अगर ऑस्ट्रेलियाई मूल्य उन्हें ‘कड़ुवे’ लगते हैं तो वे देश छोड़ कर चले जाएं।

टर्नबुल ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया में रहना अनिवार्य नहीं है। अगर आपको ऑस्ट्रेलियाई मूल्य नहीं सुहाते तो बाहर एक बड़ी दुनिया है और लोगों को आने जाने की आजादी है।’ ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने अवाम से कहा कि वे हिंसक उग्रवाद का रास्ता अख्तियार नहीं करें।

एक हफ्ते पहले 15 साल के फरहाद जब्बार ने 58 वर्षीय कर्टिस चेंग को उस वक्त गोली मार दी थी जब चेंग सिडनी में पुलिस मुख्यालय से निकल रहे थे। पुलिस के साथ गोलीबारी में युवक मारा गया। टर्नबुल की यह टिप्पणी उसके बाद आई है।

टर्नबुल ने कहा, ‘उसकी हत्या 15 साल के एक लड़के के आतंकवाद के कृत्य के चलते हुए और हम मानते हैं कि वह उग्र राजनीतिक एवं धार्मिक विचारों से प्रेरित था।’ उन्होंने आगाह किया कि नफरत या उग्रवाद का प्रचार करने वाले राष्ट्र की सफलता को कमजोर कर रहे हैं।

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने कहा, ‘जो समाज के ताने-बाने को उधेड़ना चाहते हैं, वे ऑस्ट्रेलियाई सपने का हिस्सा नहीं हैं, वे हमारे महान देश के हितों को आगे नहीं बढ़ा रहे हैं।’ इस बीच, पर्रमट्टा मस्जिद के अध्यक्ष नील अल-कदोमी नील ने भी नमाजियों से कहा, ‘अगर आपको ऑस्ट्रेलिया पसंद नहीं तो आप चले जाएं।’

कदोमी ने कहा, ‘आपने इस मुल्क में आने के लिए लंबा इंतजार किया। आप इस विशेषाधिकार का दुरूपयोग नहीं करें कि आप ऑस्ट्रेलियाई हैं, जो बहुत अहम हैं। चले जाओ। हमें समुदाय में बदमाशों की जरूरत नहीं है। हम आतंकवाद को खारिज करते हैं।’

Next Stories
1 भारतः LOC से राज्य प्रायोजित आतंकवाद चिंता की वजह
2 PAK के साथ परमाणू हथियारों के समझौते पर चर्चा कर रहा अमेरिका
3 चीन ने बताया भारत को कमजोर, कहाः जहां आज हिंदुस्तान है वहां 5 साल पहले था चीन
ये पढ़ा क्या?
X