ताज़ा खबर
 

समंदर किनारे मिली व्‍हेल की मौत, पेट से निकली चीज देख सबको हो रही चिंता

वैश्विक स्तर पर हर साल करीब 8 मिलियन टन प्लास्टिक, जिसमें बोतलें, पैकेजिंग और अन्य वेस्ट होता है, समुद्र में डाला जाता है। यह प्लास्टिक कचरा जलीय जीवों की मौत का कारण बन रहा है।

व्हेल के पेट से करीब 8 किलो प्लास्टिक बैग्स मिले हैं। (image source-facebook)

कुछ दिन पहले थाइलैंड में समुद्र के किनारे मिली एक व्हेल मछली ने 5 दिन बाद रविवार को दम तोड़ दिया। हैरानी की बात ये है कि इस व्हेल मछली के पेट से प्लास्टिक के 80 पीस मिले हैं, जिनका वजन करीब 8 किलो है। दरअसल समुद्र में बढ़ते प्लास्टिक के कचरे ने पर्यावरणविदों के साथ ही आम लोगों को भी चिंता में डाल दिया है। बता दें कि यह व्हेल मछली थाइलैंड के दक्षिणी प्रांत सोंगखला के समुद्री इलाके में बेहोशी की हालत में पायी गई थी। जिसके बाद वेटरनरी डॉक्टरों की एक टीम इस व्हेल मछली के इलाज में लगी थी।

थाइलैंड के मरीन और कोस्टल रिसोर्स डिपार्टमेंट का कहना है कि शुक्रवार को व्हेल ने उल्टी की थी, जिसमें प्लास्टि के 5 बैग मिले थे। इसके बाद व्हेल की ऑटोप्सी की गई तो उसके पेट से प्लास्टिक के 80 बैग निकाले गए। मरीन डिपार्टमेंट का कहना है कि पेट में प्लास्टिक ने व्हेल को बीमार बना दिया था जिस कारण व्हेल अपने खाने के लिए शिकार नहीं कर पा रही थी। डिपार्टमेंट का कहना है कि शायद व्हेल को लगा होगा कि समुद्र में तैरते प्लास्टिक के बैग खाना है और इसी के चलते व्हेल ने उन्हें निगल लिया। बता दें कि व्हेल मछली का भोजन आमतौर पर समुद्रीफेनी होता है, लेकिन इसके साथ ही व्हेल ऑक्टोपस और छोटी मछलियों का भी शिकार करती है।

थाइलैंड के मरीन विभाग का कहना है कि वह 8 जून को मनाए जाने वाले वर्ल्ड ओशीन डे पर लोगों में प्लास्टिक के प्रति जागरुकता लाने का प्रयास करेगा। विभाग का कहना है कि व्हेल मछली के इस मामले को सभी सेक्टरों के सामने उठाया जाएगा, ताकि थाइलैंड में प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम किया जाए। उल्लेखनीय है कि वैश्विक स्तर पर हर साल करीब 8 मिलियन टन प्लास्टिक, जिसमें बोतलें, पैकेजिंग और अन्य वेस्ट होता है, समुद्र में डाला जाता है। यह प्लास्टिक कचरा जलीय जीवों की मौत का कारण बन रहा है और फिर जलीय जीवों के माध्यम से इंसानी शरीर में प्रवेश कर रहा है। जिसने इंसानी स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा पैदा कर दिया है। यही वजह है कि अब समुद्र में बढ़ते कचरे को लेकर आवाजें उठने लगी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App