ताज़ा खबर
 

नीलामी के बाद यह बना दुनिया का सबसे महंगा हीरा, जानिए गुलाबी रंग के इस रत्न की कीमत

हमें पूरा विश्वास है कि इसको खरीदने वाले ज्वैलर चो ताई फूक में इतनी क्षमता है कि वह इसकी कीमत आसानी से अदा कर सकेंगे।

Author हांगकांग | April 6, 2017 19:01 pm
जेमोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका द्वारा वर्गीकृत इस हीरे ने नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है। (Photo Source: Twitter)

हांगकांग में एक गुलाबी हीरे की नीलामी की गई है। नीलामी केवल पांच मिनट ही चली और यह 59.60 कैरेट का हीरा 7.12 करोड़ डॉलर में बिक गया। इस नीलामी का माहौल देखने लायक था। यह अबतक का सबसे महंगा बिकने वाला हीरा बन गया है। जेमोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका द्वारा वर्गीकृत इस हीरे ने नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है। इस नीलामी के लिए उपलब्ध कराया गया यह अब तक का सबसे बड़ा पॉलिश हीरा है। इसका गुलाबी रंग ही इसे अविश्वसनीय बनाता है। इस हीरे को हांगकांग के ज्वैलर चो ताई फूक ने खरीदा है। इसकी नीलामी करने वाले सोथबी नीलामी हाउस के एक अधिकारी का कहना है कि इसकी कीमत में नीलामी हाउस का चार्ज भी शामिल है।

इसका आकार अंडाकर है। उन्होंने कहा कि इस हीरे ने नीलामी में पिछले साल मई में नीलाम हुए ओपेनहेमिर ब्लू हीरे को भी मात दे दी है। ओपेनहेमिर ब्लू हीरा 5.8 करोड़ डॉलर में बिका था। अधिकारी ने कहा कि इस नीलामी के बाद हम काफी खुश हैं। हमने सुना था कि हमारी कंपनी के बारे में चीन में काफी चर्चा है कि हम भरोसे के लायक नहीं हैं लेकिन इस नीलामी ने इस चर्चा को गलत साबित कर दिया। हमें पूरा विश्वास है कि इसको खरीदने वाले ज्वैलर चो ताई फूक में इतनी क्षमता है कि वह इसकी कीमत आसानी से अदा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हमारा इस ज्वैलर के साथ काफी पुराना रिश्ता है इसलिए इस हीरे के भुगतान को लेकर हमें कोई चिंता नहीं है।

आपको बता दें कि इस हीरे की पहले भी नीलामी की गई थी। 2013 में जिनेवा में हुई नीलामी के समय यह हीरा 8.3 करोड़ डॉलर में बिका था। उस समय इसका खरीदार इसके लिए राशि नहीं दे पाया जिसके कारण सौदा रद्द कर दिया गया था। इस गुलाबी हीरे से पहले वर्ल्ड रिकॉर्ड 24.78 कैरेट वाले ग्राफ पिंक हीरे के नाम था जिसकी कीमत 46.2 करोड़ डॉलर है।

देखिए वीडियो - दलाई लामा की अरुणाचल यात्रा का चीन ने किया विरोध; कहा- "दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को होगा नुकसान"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App