ताज़ा खबर
 

परवेज मुशर्रफ का कबूलनामा- पाकिस्‍तान के खिलाफ गुस्‍सा बहुत, जंग हुई तो हार जाएंगे

भारत में पाकिस्‍तानी कलाकारों के विरोध पर मुशर्रफ ने भी कड़ा रवैया अपनाने को कहा है।
पाक के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ( फाइल फोटो)

पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति और सेना प्रमुख परवेज मुशर्रफ ने कहा है कि ‘मुल्‍क के खिलाफ गुस्‍सा बहुत है।’ एक पाकिस्‍तानी टीवी चैनल से बातचीत में मुशर्रफ ने कहा- ”हर मुल्‍क के अपने हित होते हैं, इस वक्‍त पाकिस्‍तानी आइसालेट हुआ है। इससे मुल्‍क इंटरनेशनली कमजोर होता है। संयुक्‍त राष्‍ट्र में राजनैतिक दबाव डालकर फैसले कराए जाते हैं। अमेरिका से हमारी नाराजगी है। आपको अपना कॉकस मजबूत कराना होगा। भारत अपने कॉकस का इस्‍तेमाल करके यूएन में बलूचिस्‍तान का जिक्र करवा देता है। हमारे खिलाफ प्रस्‍ताव पेश किए जाते हैं। ये तभी होता है जब आप अंदरूनी स्‍तर पर कमजोर हों। अगर हम जंग हुई तो हम हार भी सकते हैं।”

भारत की सर्जिकल स्‍ट्राइक पर मुशर्रफ ने कहा कि ”दोनों देशों के पास सर्जिकल स्‍ट्राइक करने की क्षमता है। रात के अंधेरे में दोनों सेनाएं अटैक कर सकती हैं। हम भूटान नहीं हैं, हम पाकिस्‍तान हैं। हमारी फोर्स ताकतवर है। कोई ये न समझे कि हम चुपचाप बैठे रहेंगे।” मुशर्रफ ने आरोप लगाया कि भारत में जानबूझकर पाकिस्‍तान के खिलाफ माहौल बनाया गया है। उन्‍होंने कहा, ”उरी के बाद भारत में ऐसा हिस्‍टीरिया क्रिएट किया गया कि पनिश पाकिस्‍तान (पाकिस्‍तान को सजा दो)। हमें आप कोई सजा नहीं दे सकते, उल्‍टे हम आपको सजा दे देंगे।”

यूएन में ओबामा ने पाकिस्‍तान को लेकर क्‍या कहा था, देखिए: 

मुर्शरफ ने कहा कि भारत छोटे-छोटे देशों को घुड़का कर रखता है। उन्‍होंने टीवी पर कहा- ”छोटे-छाेटे मुल्‍कों को भारत प्रभावित करता है। इसलिए जैसे ही हिन्‍दुस्‍तान ने यहां (पाकिस्‍तान) आने से मना किया, भूटान और बांग्‍लादेश जैसे देश भी मना करने लगे। उरी जैसे छाेटे इश्‍यू को उठाकर भारत स्‍थानीय मुद्दों का अंतर्राष्‍ट्रीयकरण करने की कोशिश कर रहा है।”

READ ALSO: हलचल: भारत की ओर चलीं दो पाकिस्तानी नौकाएं, एलओसी पर दिखे पाक सेना के बड़े अफसर, डोभाल ने की चीन से बात

भारत में पाकिस्‍तानी कलाकारों के विरोध पर मुशर्रफ ने भी कड़ा रवैया अपनाने को कहा है। उन्‍होंने कहा- ”अगर वो हमें बायकॉट करते हैं, हमारे आर्टिस्‍ट्स को ब्‍लॉक करते हैं तो हमें नहीं जाना चाहिए। टू हेल विद यू। (भाड़ में जाएं वो।) हिन्‍दुस्‍तान के आगे झुकना नहीं चाहिए। बिछो मत उनके सामने, हमारी भी एक इज्‍जत है। कुछ फनकारों के खिलाफ भारत में एक्‍शन हुआ है तो उन्‍हें भारत नहीं जाना चाहिए।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.