ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी रक्षा विशेषज्ञों ने मोदी की इस्लामाबाद यात्रा, पठानकोट और उरी हमलों को बताया मोदी सरकार की साजिश

पाकिस्तान आर्मी के पूर्व जनरल गुलाम मुस्तफा ने भारत के पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को बकवास करार देते हुए कहा है कि यदि भारत ऐसी किसी कार्रवाई के बारे में सोचता भी है तो उसे करारा जवाब दिया जायेगा।

Author इस्लामाबाद | September 30, 2016 4:04 PM
पाकिस्तानी रक्षा विशेषज्ञों ने मोदी की इस्लामाबाद यात्रा, पठानकोट और उरी हमलों को मोदी सरकार की सोची-समझी साजिश बताया है। (File Photo)

भारत की तरफ से पीओके में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक को झूठा करार देते हुए पाकिस्तान के रक्षा विश्लेषकों ने नवाज शरीफ सरकार को भारत के मोदी सरकार के रुख के प्रति रणनीतिक और कूटनीतिक रूप से अतिसक्रिय होने की सलाह दी है। पाक रक्षा विश्लेषकों ने पिछले साल भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अचानक प्लान की गई पाकिस्तान यात्रा, पठानकोट अटैक और उरी अटैक को प्री-प्लांड स्टेप बताया है। उनका मानना है कि उपरोक्त सारी घटनाओं के पीछे पाकिस्तान को अस्थिर करने के लिए भारत की साजिश थी। पाक रक्षा विश्लेषकों का मानना है कि चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर की घोषणा के बाद से ही भारत पाकिस्तान को आर्थिक रूप से कमजोर करना चाहता है। उनके अनुसार उपरोक्त घटनाओं की आड़ में भारत कश्मीर में हुई हिंसा और मानवाधिकारों के हनन से दुनिया का ध्यान भटकाना चाहता है।

पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के पूर्व मंत्री जनरल (रिटा) मोइनुद्दीन हैदर ने ‘द नेशन’ अखबार से बातचात में कहा कि भारतीय सेना पाकिस्तान के अंदर घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करने की हिम्मत नहीं कर सकती क्योंकि उन्हें हमारे जवाबी कार्रवाई के बारे में पता है। उन्होंने पाकिस्तान द्वारा सीमा पार से भारत में आतंक की साजिश रचने के आरोपों को भी खारिज किया है। उन्होंने कहा है कि एलओसी पर ऐसी किसी भी घटना पर नजर रखने के लिए संयुक्त राष्ट्र ने पर्यवेक्षक तैनात किया है और उसकी तरफ से ऐसी किसी भी घटना की पुष्टि नहीं की गई है। पाक के पूर्व मंत्री ने कहा कि सीमा पर भारत की तरफ से की गई किसी भी कार्रवाई को पाकिस्तानी सेना मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है।

देखें वीडियो: सीमा पर तनाव के बीच जारी है भारत-पाक के बीच बस सेवा

वहीं, पाकिस्तान आर्मी के पूर्व जनरल गुलाम मुस्तफा ने भारत के पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को बकवास करार देते हुए कहा है कि यदि भारत ऐसी किसी कार्रवाई के बारे में सोचता भी है तो उसे करारा जवाब दिया जायेगा। गुलाम मुस्तफा ने कहा कि ‘कश्मीर फ्रीडम मूवमेंट’ नरेंद्र मोदी के लिए दुस्वप्न साबित होगा। एक अन्य पाकिस्तानी रक्षा विशेषज्ञ ने कहा कि भारत कश्मीर मुद्दे पर शर्मिंदा है और यहां जारी हिंसा से दुनिया का ध्यान भटकाने का प्रयास कर रहा है। वहीं, पूर्व वाइस एयर मार्शल शाहीद लतीफ ने भारत पर पाकिस्तान में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने का आरोप लगाया है। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से कश्मीर हिस्सा को संयुक्त राष्ट्र में उठाने के लिए कहा है। कुछ अन्य रक्षा विश्लेषकों का मानना है कि भारत नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया का सबसे खतरनाक आतंकी देश बनकर उभरा है। उनका कहना है कि भारत पाकिस्तान की क्षमता से परिचित हे और वो युद्ध करने की गलती नहीं करेगा।

Read Also: सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द होने के बाद मोहम्मद शहाबुद्दीन ने किया सरेंडर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App