ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी सिंगर शफाकत अमानत अली ने की उरी हमले की निंदा, कहा- बाकी कलाकारों ने डर से नहीं की निंदा

किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने उरी हमले की निंदा नहीं की थी। इसके बाद उन्हें भारत में काम नहीं करने देने की मांग उठी थी।

पाकिस्तानी सिंगर शफाकत अमानत अली। (File Photo)

पाकिस्तानी सिंगर शफाकत अमानत अली ने उरी हमले की निंदा की है। अली पहले पाकिस्तानी कलाकार हैं, जिन्होंने उरी हमले की निंदा की है। उरी सेक्टर में आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। अली ने कहा, ‘मैं उरी हमले की निंदा करता हूं। हालांकि, मैं अन्यों के बारे में नहीं जानता।’ अली ने यह बात बुधवार को एक टीवी चैनल से बात करते हुए कही। अन्य पाकिस्तानी कलाकारों की इस मुद्दे पर चुप्पी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘बाकी कलाकारों ने उरी हमले की निंदा, इसलिए नहीं की होगी कि उन्हें किसी का डर होगा। हालांकि, मैं जितना बाकी कलाकारों को जानता हूं, वे भी आतंक के बारे में मेरा जैसा ही सोचते होंगे।’ बता दें, भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव के बीच पिछले सप्ताह बेंगलुरू में होने वाले शफाकत अली के कॉन्सर्ट को रद्द कर दिया गया था।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J3 Pro 16GB Gold
    ₹ 7490 MRP ₹ 8800 -15%
    ₹0 Cashback
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Black
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback

वीडियो में देखें- सेना ने मार गिराए तीन आतंकी

उरी हमले के बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों को काम नहीं करने देने का मामला उठा था। हमले के बाद किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने उरी हमले की निंदा नहीं की थी। मनसे ने तो पाकिस्तानी कलाकारों को 48 घंटे में भारत छोड़ने की धमकी दी थी। वहीं बॉलीवुड भी इस मामले पर बंटा हुआ नजर आ रहा था। आधे बॉलीवुड सितारे पाकिस्तानी कलाकारों के पक्ष में थे तो वहीं कुछ उनके विपक्ष में बोल रहे थे।

Read Also: अब हेमा मालिनी बोलीं- मैं नहीं चाहती कि पाकिस्तानी कलाकार भारत में करें काम

बता दें, कश्मीर के उरी सेक्टर में स्थित एक सेना कैंप पर आतंकियों ने 18 सितंबर को हमला कर दिया था। इस हमले में 18 जवान तो मौके पर ही शहीद हो गए थे, उसके बाद दो जवान इलाज के दौरान शहीद हो गए। भारत ने इस हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ बताया था। हालांकि, पाकिस्तान ने भारत के इस दावे को खारिज किया। इसके बाद भारतीय सेना ने 29 सितंबर को पीओके में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक किया। भारतीय सेना का दावा है कि हमने पीओके स्थित कई आतंकी ठिकानों को इस दौरान ध्वस्त कर दिया। हालांकि, पाकिस्तानी सेना ने भारत के इस दावे को भी खारिज कर दिया। पाकिस्तान ने कहा कि सीमा पर दोनों पक्षों में फायरिंग हुई थी, जिसमें उनके दो जवान मारे गए।

Read Also: राधिका आप्टे ने किया पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम करने का समर्थन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App