ताज़ा खबर
 

पाक पीएम नवाज शरीफ ने दी अपने मंत्रियों को हिदायत-न दें भारत विरोधी बयान

पाक अधिकारी के मुताबिक, शरीफ भारत के साथ रिश्‍ते बेहतर करने को लेकर बेहद पॉजिटिव हैं जिससे पूरे क्षेत्र को फायदा पहुंचेगा।

Author इस्‍लामाबाद | Updated: December 19, 2015 3:55 PM
पाक पीएम नवाज शरीफ (FILE: REUTERS)

पाकिस्‍तान के पीएम नवाज शरीफ ने अपने मंत्रियों को भारत विरोधी बयान देने से रोका है ताकि शांति प्रक्र‍िया पर कोई असर न हो। एक पाकिस्‍तान अधिकारी ने ऐसा कहा है। शरीफ के एक नजदीकी सहयोगी ने शुक्रवार को कहा कि मंत्रियों और सीनियर अफसरों को ऐसा कोई भी बयान देने से बचने कहा गया है जो दोनों देशों के बीच शांति प्रक्र‍िया को नुकसान पहुंचाए। न नेशन ने अधिकारी के हवाले से बताया, ”वे ही बयान दिए जाएंगे जिससे बातचीत को प्रोत्‍साहन मिले न कि पुरानी बातों को कुरेदा जाए। पीएम ने नजदीकी सहयोगियों और कैबिनेट मेंबर्स को शांति को बढ़ावा देने के लिए कहा है।”

पाक अधिकारी के मुताबिक, शरीफ भारत के साथ रिश्‍ते बेहतर करने को लेकर बेहद पॉजिटिव हैं जिससे पूरे क्षेत्र को फायदा पहुंचेगा। पहले शरीफ इस बात से नाराज थे कि भारत सिर्फ पाक अधिकृत कश्‍मीर पर बातचीत करना चाहता है। लेकिन वे समझते हैं कि ये भारत सरकार की पॉलिसी नहीं है। वहीं, कुछ दूसरे अधिकारियों के मुताबिक, शरीफ और मिलिट्री, दोनों ही भारत के साथ बेहतर संबंध चाहते हैं। बता दें कि पेरिस में इंडियन पीएम नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ के बीच मुलाकात और बाद में बैंकाक में दोनों देशों के एनएसए की मीटिंग से शांति प्रक्र‍िया को बढ़ावा मिला है। सुषमा स्‍वराज भी 8 दिसंबर को हार्ट ऑफ एशिया कॉन्‍फ्रेंस में शामिल होने पाकिस्‍तान गईं थीं। स्‍वराज ने नवाज शरीफ और उनके विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज से मुलाकात की थी। अब उम्‍मीद की जा रही है कि शरीफ और मोदी जनवरी में स्‍व‍िट्जरलैंड में मिल सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories