ताज़ा खबर
 

मंत्री ने यौन उत्पीड़न किया तो पाकिस्तान की महिला एमपी ने दी धमकी-कार्रवाई नहीं हुई तो कर लूंगी आत्मदाह

महिला सांसद नुसरत अब्बासी ने कहा कि उन्होंने महिला डिप्टी स्पीकर से शिकायत की, लेकिन उन्होंने भी कोई एक्शन नहीं लिया।

सिंध प्रांत की सांसद नुसरत सहर अब्बासी

पाकिस्तानी संसद में साथी सांसद द्वारा उत्पीड़न किए जाने के बाद एक महिला सांसद ने आत्मदाह करने की धमकी दी है। न्यूज एजेंसी एएफपी से बातचीत में महिला सांसद ने कहा कि यह दिखाता है कि महिला सुरक्षा के कानून क्यों नहीं लागू किए जाते। सिंध प्रांत की सांसद नुसरत सहर अब्बासी ने गुस्सा जताते हुए कहा कि शुक्रवार को प्रांतीय मंत्री इमदाद पिताफी ने उन्हें असेंबली में अपने प्राइवेट चेंबर में बुलाया और उन्होंने कुछ एेसे शब्द कहे, जिन्हें यौन उत्पीड़न के तौर पर देखा जा रहा है। उन्होंने कहा, मैंने इसका पूरा विरोध किया लेकिन असेंबली की डिप्टी स्पीकर, जो खुद एक महिला हैं, ने कोई भी एक्शन लेने से इनकार कर दिया। हालांकि बाद में प्रांतीय मंत्री ने माफी मांग ली।

इसके बाद शनिवार को गुस्साई नुसरत को पेट्रोल की एक बोतल के साथ देखा गया था। उन्होंने धमकी दी थी कि अगर कोई कार्रवाई नहीं की गई तो वह आत्मदाह कर लेंगी। वहीं सोशल मीडिया पर मामला सामने आने के बाद फेडरल पार्टी के अध्यक्षों ने मामले में हस्तक्षेप किया और पिताफी ने नुसरत को सम्मान के चिन्ह के तौर पर घूंघट ओढ़ाकर माफी मांगी। नुसरत ने ट्वीट कर कहा कि क्या सिर्फ माफी काफी है, क्या गारंटी है कि एेसी हरकत वह दोबारा नहीं करेंगे। अब्बासी ने मंगलवार को एएफपी को बताया कि यह मामला अभी खत्म नहीं हुआ है। यह देश में यौन उत्पीड़न के खिलाफ महिला सुरक्षा के कानूनों को लागू करने का सवाल है। उन्होंने कहा कि इन कानूनों को लागू करना अभी भी सपने जैसा ही है और हम जैसी महिला सांसद भी भेदभाव और उत्पीड़न से अछूते नहीं हैं।

pakistan67 प्रांतीय मंत्री ने संसद में घूंघट ओढाकर महिला सांसद से माफी मांगी।

आपको बता दें कि दशकों से पाकिस्तानी महिलाएं रूढ़िवादी देश में अपने हक के लिए लड़ रही हैं। यहां हॉनर किलिंग और एसिड से हमला करने की घटनाएं आम हैं। हाल के वर्षों में पाकिस्तान ने कई एेसे कानून पास किए हैं,जिससे महिलाओं को सुरक्षा मिल सके, लेकिन आलोचकों का कहना है कि पूरी तरह से कानून लागू किए बिना कुछ नहीं होने वाला।

पाकिस्तान ने रिहा किए 220 भारतीय मछुआरे, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App