ताज़ा खबर
 

कश्मीरी नेताओं से सलाह-मशविरा पर भारत की आपत्ति अनुचित: पाक गृह मंत्री

पाकिस्तान ने भारत पर शांति प्रयासों को विफल करने और द्विपक्षीय वार्ता में कश्मीर मुद्दे को शामिल करने पर आपत्ति जताकर क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता को जोखिम..

Author इस्लामाबाद | August 29, 2015 1:03 PM
पाकिस्तान के गृह मंत्री निसार अली खान ने कहा कि कहा कि कश्मीरी नेताओं के साथ सलाह-मशविरे पर भारत सरकार की आपत्ति अनुचित थी।

पाकिस्तान ने भारत पर शांति प्रयासों को विफल करने और द्विपक्षीय वार्ता में कश्मीर मुद्दे को शामिल करने पर आपत्ति जताकर क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता को जोखिम में डालने का आरोप लगाया है।

यहां जारी एक वक्तव्य के अनुसार गृह मंत्री निसार अली खान ने कहा कि पाकिस्तान की क्षेत्र में शांति और पड़ोसी देशों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंधों को लेकर स्पष्ट राय है लेकिन दुर्भाग्य से दूसरे पक्ष ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि कश्मीरी नेताओं के साथ सलाह-मशविरे पर भारत सरकार की आपत्ति अनुचित थी।

भारत और पाकिस्तान के संबंध पिछले सप्ताह उस समय निचले स्तर पर चले गए जब पाकिस्तान ने अपने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज को अपने भारतीय समकक्ष अजीत डोभाल के साथ वार्ता के लिए नयी दिल्ली भेजने से मना कर दिया।

प्रस्तावित वार्ता इस्लामाबाद द्वारा प्रस्तावित एजेंडे पर मतभेदों और कश्मीरी अलगाववादियों एवं अजीज के बीच नियोजित बैठक की वजह से रद्द की गई।

खान ने कहा कि भारत किसी न किसी बहाने शांति के प्रयासों को विफल करने का प्रयास कर रहा है और क्षेत्रीय सुरक्षा एवं स्थिरता को जोखिम में डाल रहा है।

खान ने कल ब्रिटिश विदेश सचिव फिलिप हैमंड के साथ लंदन में बातचीत के दौरान कहा, ‘‘कश्मीर मुद्दा दोनों देशों के संबंध सामान्य करने और क्षेत्र में शांति स्थापित करने में बड़ी बाधा है।’’

खान ने कहा कि भारत को इस बात को अवश्य समझना चाहिए कि कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के बिना बातचीत की प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ सकती है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान क्षेत्र में शांति के लिए अपने प्रयास जारी रखेगा और लेकिन वह किसी देश के वर्चस्व को स्वीकार नहीं करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App