ताज़ा खबर
 

‘हिंसा की नीति’ की वजह से पाकिस्तान और इसके पड़ोसी देशों के बीच विश्वास की कमी: अफगानिस्तान

अफगानिस्तान के राजदूत ने कहा कि पाकिस्तान के अंदर सैन्य बलों और सरकार के बीच भी तनाव है।

Author न्यूयॉर्क | September 30, 2016 1:54 PM
21 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र आमसभा को संबोधित करते पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ। (एपी फाइल फोटो)

अफगानिस्तान के राजदूत ने कहा है कि राजनीतिक उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए हिंसा का इस्तेमाल करने की पाकिस्तान की नीति की वजह से इसके और इसके पड़ोसी देशों के बीच ‘विश्वास की कमी’ है। राजदूत ने कहा कि भारत-पाक के बीच चल रहे दुर्भाग्यपूर्ण तनाव का अंत होना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ अफगानिस्तान के स्थायी प्रतिनिधि, राजदूत महमूद सैकल ने कहा, ‘पाकिस्तान और इसके पड़ोसी देशों के बीच लंबे समय से विश्वास की कमी रही है और उसका विकास हो रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमें अपने आप से यह सवाल करने की जरूरत है कि पाकिस्तान के अंदर कुछ निश्चित संगठनों को ऐसी कौन सी चीजें प्रेरित करती है जिसकी वजह से वे राजनीतिक उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए हिंसा की नीति को बर्दाश्त कर सकते हैं। हमें इसका जवाब तलाश करने की जरूरत है।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के अंदर सैन्य बलों और सरकार के बीच भी तनाव है। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान और भारत के बीच लंबे संमय से जारी दुर्भाग्यपूर्ण तनाव का अंत हो जाना चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App