ताज़ा खबर
 

जब ट्विटर पर इमरान खान से भिड़ गईं नवाज शरीफ की बेटी मरियम

इमरान खान ने लिखा-'बुलेटप्रुफ कार से बोलने से उस भीड़ में भरोसा पैदा नहीं होता जो लगातार कम होती जा रही है, यदि आपको मौत से डर लगता है तो आपको ये रैलियां नहीं करनी चाहिए थीं।'
ट्विटर पर मरियम शरीफ और इमरान खान के बीच जुबानी जंग

पाकिस्तान में इमरान खान और नवाज शरीफ के बीच चल रहे राजनीतिक अदावत के बीच नवाज की बेटी मरियम नवाज शरीफ इमरान खान से भिड़ गईं। उन्होंने इमरान खान को आर्मी की ‘कठपुतली’ तक कह दिया। पाकिस्तान की दो राजनीतिक शख्सियतों के बीच ये ट्विटर वार तब शुरू हुआ जब इमरान खान ने पीएमएल (एन) की रैलियों के बारे में ट्वीट किया। इमरान खान ने पूर्व पीएम नवाज शरीफ की रैली को करप्शन बचाओ रैली करार दिया और कहा कि इस रैली से लगातार लोग गायब होते जा रहे हैं। इमरान खान के ट्वीट से बिफरीं नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज शरीफ ने ट्वीट कर कहा कि आप पूरी तरह से हार चुके हैं और इस हार से आपके दिल में पैदा हुए तूफान को समझा जा सकता है।

इमरान खान ने इसी रैली को निशाना बनाते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किये। इमरान खान ने क्रिकेटिंग कमेंटरी के अंदाज में ट्वीट किया उन्होंने लिखा, ‘ आप महसूस कर रहे होंगे कि आपकी गलत अंपायरिंग की सफाई सुनने आए लोगों की संख्या में लगातार कमी आ रही है।’ आगे इमरान खान ने लिखा, ‘ पटवारियों और किराये की भीड़ से की गई रैली किसी को नेता नहीं बना देती है।’ इस रैली में नवाज शरीफ बुलेट प्रूफ कार से जनता को संबोधित कर रहे हैं। इमरान खान ने इस पर भी तंज कसा है, उन्होंने लिखा, ‘बुलेटप्रुफ कार से बोलने से उस भीड़ में भरोसा पैदा नहीं होता जो लगातार कम होती जा रही है, यदि आपको मौत से डर लगता है तो आपको ये रैलियां नहीं करनी चाहिए थीं।’

इसके बाद जवाब देने की बारी थी मरियम नवाज शरीफ की। मरियम नवाज शरीफ ने कहा, ‘ नवाज शरीफ का संघर्ष आपके सभी कठपुतलियों के संघर्ष से बड़ा है, आप ये जंग पूरी तरह से हार चुके हैं, आप दर्द समझा जाने लायक है, आप नाकाम हो चुके हैं।’ पाकिस्तान में अगले साल नेशनल असेंबली के चुनाव होने वाले हैं। इस लिहाज से वहां हर सियासी दल अपनी ताकत का प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट द्वारा करप्शन के आरोपों के बाद पीएम पद से हटाये जाने के बाद नवाज शरीफ इस्लामाबाद से लाहौर तक एक विशाल रैली कर रहे हैं। ये रैली बुधवार को शुरू हुई है। इस रैली के जरिये नवाज शरीफ पाकिस्तानी आवाम के सामने अपना शक्ति प्रदर्शन करना चाहते हैं और जताना चाहते हैं कि कोर्ट के फैसले के बावजूद वो पाकिस्तानी आवाम के पसंदीदा हुक्मरानों में से एक हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.