ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में चुनाव जीते ‘चायवाले’ गुल जफर से मिलिए, निकले करोड़ों के मालिक

जफर ने अपने इंटरव्यू में चाय बनाते वक्त कहा था, 'यह मेरा काम है और मुझे यहीं से एमएनए नियुक्त किया गया है।' उन्होंने कहा था कि वह अपने निर्वाचन क्षेत्र में लोगों को शिक्षित करने के लिए काम करेंगे और क्षेत्र के विकास को लेकर भी काम करेंगे।

पाकिस्तान के एमएनए गुल जफर खान (फोटो सोर्स- Geo News स्क्रीनशॉट)

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के टिकट पर नेशनल असेंबली का चुनाव लड़ने वाले और जीत हासिल करने वाले गुल जफर खान, जिन्हें पहले ‘चायवाला’ बताया गया था, उनको लेकर बहुत ही बड़ा खुलासा सामने आया है। जफर ने चुनाव से पहले चुनाव अभियान में खुद को ‘चायवाला’ बताया था, लेकिन अब यह खबर सामने आ रही है कि जफर करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं। जियो टीवी के मुताबिक खैबर पख्तूनख्वा के बजौर से मेंबर ऑफ नेशनल असेंबली गुल जफर कुल संपत्ति 3 करोड़ से भी ज्यादा की है।

पाकिस्तान चुनाव आयोग में जफर द्वारा सौंपे गए दस्तावेजों के मुताबिक उन्होंने अपनी संपत्ति 3 करोड़ से ज्यादा की बताई है। इसके अलावा दस्तावेजों में जफर ने खुद को चायवाला नहीं, बल्कि गारमेंट का व्यापारी बताया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक जफर के पास 1 करोड़ 20 लाख की कृषि भूमि भी है। इसके अलावा दो घर और 1 करोड़ की अचल संपत्ति है। इमरान खान की पार्टी पीटीआई द्वारा टिकट दिए जाने से पहले जफर ने दावा किया था कि वह रावलपिंडी के एक होटल में चाय बनाते हैं।

खान द्वारा चाय सर्व करने की जो तस्वीरें वायरल हुई थीं, वह 25 जुलाई को हुए पाकिस्तान आम चुनाव के पहले की थीं, जबकि जो वीडियो रिकॉर्ड किया गया था वह चुनाव के बाद का था। जफर ने अपने इंटरव्यू में चाय बनाते वक्त कहा था, ‘यह मेरा काम है और मुझे यहीं से एमएनए नियुक्त किया गया है।’ उन्होंने कहा था कि वह अपने निर्वाचन क्षेत्र में लोगों को शिक्षित करने के लिए काम करेंगे और क्षेत्र के विकास को लेकर भी काम करेंगे। जफर ने कहा था कि उनके पास अपने क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को हल करने का एक ही मौका है और वह इस मौके को जाया नहीं होने देंगे।

आपको बता दें कि 25 जुलाई को हुए चुनाव में पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। टीआई को 270 सीटों पर हुए चुनाव में 116 सीटें मिली थीं। पीटीआई प्रमुख इमरान खान 18 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App