ताज़ा खबर
 

‘नवंबर-दिसंबर में लोग ज्यादा खाते हैं रोटियां, तभी 70 रुपए/KG मिल रहा आटा’, पाकिस्तान के रेल मंत्री का बेतुका बयान

पाकिस्तान में रोजाना औसतन 13-15 फीसदी की दर से महंगाई बढ़ रही है। यानी खाने-पीने की चीजें लगातार आसमान छू रही हैं, आटे तक की किल्लत होने लगी है।

पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद। (Source: Samaatv/Youtube)

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद अहमद अपने बयान के चलते एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन्होंने मुल्क में बढ़ती हुई महंगाई पर बेतुका बयान दिया है। रेल मंत्री के मुताबिक पाकिस्तान में आटे की कीमत इसलिए बढ़ रही है क्योंकि लोग नवंबर और दिसंबर में ज्यादा रोटियां खाते हैं। रेल मंत्री ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ‘नवंबर और दिसंबर में लोग रोटियां ज्यादा खाते हैं।’ अहमद के इस बयान पर जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद पत्रकार हंसने लगे तो उन्होंने तर्क दिया कि वो मजाक नहीं कर रहे बल्कि जो भी कह रहे हैं उसके पीछे पूरा रिसर्च है।

पाकिस्तान में महंगाई को काबू में करने के बजाय पक्ष-विपक्ष में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। विपक्षी पार्टियों ने पीटीआई नेता के बयान की तीखी आलोचना की है। विपक्ष ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि पाकिस्तान में लोग महंगाई से परेशान हैं और सरकार के मंत्री लोगों का मजाक उड़ा रहे हैं।

बता दें कि पाकिस्तान में रोजाना औसतन 13-15 फीसदी की दर से महंगाई बढ़ रही है। यानी खाने-पीने की चीजें लगातार आसमान छू रही हैं, आटे तक की किल्लत होने लगी है। विभिन्न रिपोर्ट के मुताबिक लाहौर और कराची सहित देश के विभिन्न शहरों में आटा 70 रुपए किलो तक में बिक रहा है। बताया जाता है कि क्वेटा में जो नान पहले 20 रुपए में मिल रहा था उसकी कीमत 40 रुपए हो गई।

दरअसल पाकिस्तान में आटे की किल्लत पिछले कई महीनों से जारी है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद राज्य सरकारों से खाद्य चीजों में हो रही कालाबाजारी रोकने के निर्देश दिए हैं। खान ने कहा कि राज्य सरकारें कालाबाजारी, मुनाफाखोरी रोकने के लिए तत्काल जरूरी कदम उठाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CAA के खिलाफ यूरोपीय संसद में प्रस्ताव, 24 देशों के सदस्यों ने ठहराया ‘भेदभावपूर्ण’ और ‘विभाजनकारी’
2 कोरोना वायरस का खौफ! चीन ने पांच और शहरों को बंद किया, 5.6 करोड़ लोग प्रभावित
3 पूर्वी तुर्की में शक्तिशाली भूकंप से 20 लोगों की मौत, एक हजार से ज्यादा घायल और 30 लापता
यह पढ़ा क्या?
X